निर्मला सीतारमण ने खोला बजट के 'लाल बस्ते' का राज, बोलींं- मामी ने अपने हाथों से बनाकर दिया

सीतारमण ने कहा, 'मुझे ब्रीफकेस या सूटकेस पसंद नहीं हैं. यह प्रचलन अंग्रेजों के जमाने से चला आ रहा है.'

News18Hindi
Updated: July 6, 2019, 11:47 PM IST
निर्मला सीतारमण ने खोला बजट के 'लाल बस्ते' का राज, बोलींं- मामी ने अपने हाथों से बनाकर दिया
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया आखिर क्यों ब्रीफकेस की जगह बस्ते में ले गईं बजट से जुड़े दस्तावेज. (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: July 6, 2019, 11:47 PM IST
वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को लोकसभा में मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट पेश किया. इस दौरान वे ब्रीफकेस या सूटकेस की जगह लाल बस्‍ते में इस्‍तावेज लेकर आईं. उनके इस तरीके ने सबका ध्‍यान भी आकर्षित किया. लोकसभा में ऐसा पहला मौका था जब किसी वित्‍त मंत्री ने बजट दस्‍तावेज के लिए बस्‍ते का उपयोग किया हो.

इसपर मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए सीतारमण ने कहा, 'मुझे ब्रीफकेस या सूटकेस पसंद नहीं हैं. यह प्रचलन अंग्रेजों के जमाने से चला आ रहा है. मुझे यह पसंद ही नहीं है. मेरी मामी ने मुझे लाल रंग का बस्‍ता बनाकर दिया था. उन्‍होंने पूजा अर्चना करने के लिए मुझे ये दिया था.'

सीतारमण ने कहा, 'इस लाल रंग के बस्‍ते को सरकारी पहचान देने के लिए उसपर अशोक स्‍तंभ का चिन्‍ह लगाया गया था. भारत में हर चीज को लेकर अपनी अलग ही परंपरा है. दिवाली या किसी भी शुभ काम के लिए लाल रंग का उपयोग करते हैं. दुकान के बहीखातों की शुरूआत करते समय भी उसका कवर लाल रंग का ही होता है. उसपर कुमकुम, हल्‍दी, चंदन और शुभ लाभ लिखकर शुरूआत की जाती है.

सभी ने जताया सरकार पर भरोसा

बजट भाषण की शुरुआत करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि इस बार देश की जनता ने पूर्ण बहुमत के साथ हमें सरकार में बैठाया है. इस चुनाव में लोगों ने भरपूर वोट दिया. पहली बार महिला, युवा, बुजुर्गों ने अच्छा काम करने वाली सरकार पर भरोसा जताया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में हमारी सरकार तेजी से काम कर रही है और अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति की मदद कर रही है. निर्मला सीतारमण ने कहा कि इस बार अंतरिक्ष कार्यक्रम, ब्लू इकॉनमी, जल प्रबंधन, स्वस्थ समाज और नागरिकों को सुरक्षा जैसे मसले भी हमारे फोकस में होंगे.



45 लाख रुपये का घर खरीदने पर 1.5 लाख रुपये की छूट
Loading...

बजट में मिडिल क्लास के लिए मोदी सरकार ने बड़ा ऐलान किया है. अब 45 लाख रुपये का घर खरीदने पर अतिरिक्त 1.5 लाख रुपये की छूट दी जाएगी. इसके अलावा 2.5 लाख रुपये तक का इलेक्ट्रिक व्हीकल खरीदने पर भी छूट दी जाएगी.

सोने और बहुमूल्य धातुओं पर उत्पाद शुल्क बढ़ा

सोने और बहुमूल्य धातुओं पर उत्पाद शुल्क 10 से बढ़कर 12.5 प्रतिशत कर दिया गया है. पेट्रोल और डीजल पर 1-1 रुपये का अतिरिक्त सेस वसूला जाएगा.सोना पर शुल्क बढ़ाकर 10 फीसदी टैक्स से बढ़ाकर 12.5 फीसदी कर दिया गया है. तंबाकू पर भी अतिरिक्त शुल्क लगाया जाएगा. पेट्रोल-डीजल पर 1-1 रुपये का अतिरिक्त सेस लगाया जाएगा.

2022 तक हर घर में गैस और बिजली का होगा कनेक्शन

वित्त मंत्री ने कहा कि कि 2022 तक हर घर चाहे वह गांव में हो या फिर शहर में सबसे पास गैस और बिजली का कनेक्शन होगा. इसी के साथ सरकार ने मीडिया, विमानन और बीमा क्षेत्र में एफडीआई बढ़ाने का प्रस्ताव किया है. वित्त मंत्री ने ऐलान किया कि छोटे दुकानदारों को पेंशन दी जाएगी, साथ ही मात्र 59 मिनट में सभी दुकानदारों को लोन देने की भी योजना है. इसका लाभ 3 करोड़ से अधिक छोटे दुकानदारों को मिल सकेगा. हमारी सरकार इसके साथ ही हर किसी को घर देने की योजना पर भी आगे बढ़ रही है.



अन्नदाता को ऊर्जादाता बनाने पर होगा काम : वित्त मंत्री

वित्त मंत्री ने कहा कि अन्नदाता को ऊर्जादाता बनाने पर होगा काम. किसानों के उत्पाद से जुड़े कामों में प्राइवेट आंत्रप्रेन्योरपिश को बढ़ावा दिया जाएगा. वित्त मंत्री ने कहा 2014 के बाद 9.6 करोड़ शौचालय का निर्माण किया गया है. 5.6 लाख गांव आज देश में खुले से शौच से मुक्त हो गए हैं. स्वच्छ भारत मिशन के विस्तार के लिए सरकार प्रतिबद्ध है. अभी तक 2 करोड़ लोगों को डिजिटल रूप से साक्षर बनाया गया है. ग्रामीण-शहरी अंतर को पाटने के लिए सरकार डिजिटल क्षेत्र को बढ़ावा दे रही है.

ये भी पढ़ें: मोदी सरकार 2.0 के पहले बजट में गांव, गरीब और किसानों पर जोर

ये भी पढ़ें: बिजनेस शुरू करने वालों को 59 मिनट में मिलेगा 1 करोड़ का लोन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 6, 2019, 11:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...