लाइव टीवी

मालेगांव ब्लास्ट केस: मृतक के पिता ने दी बॉम्बे हाईकोर्ट में अर्जी- NIA कोर्ट के जज को दी जाए एक्सटेंशन

News18Hindi
Updated: February 12, 2020, 9:47 AM IST
मालेगांव ब्लास्ट केस: मृतक के पिता ने दी बॉम्बे हाईकोर्ट में अर्जी- NIA कोर्ट के जज को दी जाए एक्सटेंशन
बॉम्बे हाईकोर्ट

महाराष्ट्र के मालेगांव (Malegaon) में 29 सितंबर 2008 की रात साढ़े नौ बजे बम धमाका हुआ था. इस धमाके में छह लोग मारे गए और 101 लोग घायल हुए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 12, 2020, 9:47 AM IST
  • Share this:
मुंबई. मालेगांव ब्लास्ट केस (Malegaon Blast) में मृतक के पिता निसार अहमद बिलाल ने एनआईए कोर्ट (NIA Court) के जज को एक्सटेंशन देने की मांग की है. वो चाहते हैं कि जब तक इस केस की सुनवाई पूरी न हो जाए तब तक वो अपने पद पर बने रहें. उन्होंने इसको लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) के चीफ जस्टिस के सामने अर्जी दी है. एनआईए कोर्ट के जज वीएस पडालकर फरवरी 2020 में रिटायर हो रहे हैं.

एक्सटेंशन मिले जज को
निसार अहमद ने अपनी अर्जी में लिखा है कि आरोपियों की तरफ से तमाम दबावों के बाद भी जज पडालकर लगातार केस की सुनवाई कर रहे हैं. उन्होंने इस दौरान 140 लोगों की गवाही भी रिकॉर्ड कर ली है. साथ ही निसार ने ये भी लिखा कि आरोपियों ने भी उनके खिलाफ कोई शिकात नहीं की है. लिहाजा निसार चाहते हैं कि जज को कुछ महीनों के लिए एक्सटेंशन मिले.

प्रज्ञा सिंह के खिलाफ अपील

निसार अहमद सईद बिलाल ने पिछले साल बॉम्बे हाईकोर्ट में धमाके की आरोपी प्रज्ञा सिंह के चुनाव लड़ने पर रोक लगाने की मांग की थी. बता दें कि मध्य प्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के ख़िलाफ़ प्रज्ञा सिंह को चुनावी मैदान में उतारा गया था.

क्या हुआ था ब्लास्ट में
बता दें कि महाराष्ट्र के मालेगांव में 29 सितंबर 2008 की रात साढ़े नौ बजे बम धमाका हुआ था. इस धमाके में छह लोग मारे गए और 101 लोग घायल हुए थे. मालेगांव ब्लास्ट में निसार अहमद के बेटे की मौत हो गई थी. मस्जिद में नमाज पढ़ कर उनका बेटा घर लौट रहा था तभी ब्लास्ट में उसकी मौत हो गई थी. उन दिनों उनका बेटा वहां पढ़ाई के साथ-साथ नौकरी भी करता था.ये भी पढ़ें- केजरीवाल का 'वेलेंटाइन डे' से है खास कनेक्शन, क्या 14 फरवरी को लेंगे शपथ?

AAP की जीत के बाद अब कैबिनेट पर सबकी नजर, ये बन सकते हैं मंत्री

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2020, 9:20 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर