होम /न्यूज /राष्ट्र /

नीति आयोग बैठक: नवीन पटनायक ने ओडिशा को विशेष फोकस राज्य बनाने की मांग रखी

नीति आयोग बैठक: नवीन पटनायक ने ओडिशा को विशेष फोकस राज्य बनाने की मांग रखी

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक. (फाइल फोटो)

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक. (फाइल फोटो)

Naveen Patnaik News: नवीन पटनायक ने नीति आयोग की बैठक में कहा कि राज्य और केंद्र सरकारें राजनीतिक संस्थाएं हैं और कभी-कभी केंद्रीय योजनाओं के कार्यान्वयन में विवाद भी होते हैं. नीति आयोग एक लोकपाल की तरह इन मुद्दों को हल कर सकता है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने रविवार को कहा कि उनका राज्य लगभग हर साल प्राकृतिक आपदाओं से प्रभावित होता है लिहाजा उसे विशेष फोकस राज्य बनाने और इसके लिए धन आवंटित करने की जरूरत है. पटनायक ने यह आग्रह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में नीति आयोग की संचालन परिषद की यहां आयोजित सातवीं बैठक को संबोधित करते हुए किया.

एक बयान के मुताबिक पटनायक ने इस बैठक में कहा कि राज्य और केंद्र सरकारें राजनीतिक संस्थाएं हैं और कभी-कभी केंद्रीय योजनाओं के कार्यान्वयन में विवाद भी होते हैं. नीति आयोग एक लोकपाल की तरह इन मुद्दों को हल कर सकता है. उन्होंने कहा कि इससे सहकारी संघवाद को बढ़ावा मिलेगा और योजनाओं का तेजी से क्रियान्वयन होगा.

पटनायक ने कहा, “कोविड-19 महामारी से प्रभावी ढंग से निपटने में ‘टीम इंडिया’ ने प्रधानमंत्री के नेतृत्व में अपना दृढ़संकल्प दिखाया है.” उन्होंने देश को गौरवान्वित करने वाले एथलीटों को बधाई देते हुए कहा कि आज भारत राष्ट्रमंडल खेलों में अपना खेल कौशल दिखा रहा है. पटनायक ने कहा कि भारत एक आर्थिक महाशक्ति बनने के लिए तैयार है और नीति आयोग इस दिशा में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है.

पीएम मोदी ने राज्यों से दुनिया भर में ‘3 टी’ को बढ़ावा देने को कहा
दूसरी ओर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नीति आयोग की संचालन परिषद की बैठक की अध्यक्षता करते हुए प्रत्येक राज्य से दुनिया भर में प्रत्येक भारतीय मिशन के माध्यम से अपने 3 टी (ट्रेड, टूरिज्म, टेक्नोलॉजी) को बढ़ावा देने पर ध्यान केंद्रित करने का आह्वान किया. उन्होंने कहा, “राज्यों को आयात कम करने, निर्यात बढ़ाने और बाद के लिए अवसरों की पहचान करने पर ध्यान देना चाहिए. हमें लोगों को जहां भी संभव हो स्थानीय वस्तुओं का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए. ‘वोकल फॉर लोकल’ किसी एक राजनीतिक दल का एजेंडा नहीं है, बल्कि यह एक लक्ष्य है.”

Tags: Naveen patnaik, Niti Aayog, Odisha

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर