• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • COVID-19: नीति आयोग के सदस्य ने चेताया- तीसरी लहर की आशंका से नहीं कर सकते इनकार, अगले साल तक पहनना होगा मास्क

COVID-19: नीति आयोग के सदस्य ने चेताया- तीसरी लहर की आशंका से नहीं कर सकते इनकार, अगले साल तक पहनना होगा मास्क

देश में कोरोना के तीसरी लहर की आशंका जाहिर की जा रही है.(AP Photo/Channi Anand)

देश में कोरोना के तीसरी लहर की आशंका जाहिर की जा रही है.(AP Photo/Channi Anand)

COVID-19 3rd Wave: नीति आयोग में स्वास्थ्य मामलों के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल (DR. VK Paul) ने चेताया है कि कोवि़ड से जुड़े प्रोटोकॉल अगले साल भी का पालन करते रहना होगा. उन्होंने तीसरी लहर की आशंका से भी इनकार नहीं किया. उन्होंने कहा कि अगले साल तक मास्क लगाए रखना होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

     नई दिल्ली. देश में कोरोना वायरस (Coronavirus In India) संक्रमण के घटते-बढ़ते मामलों के बीच नीति आयोग में स्वास्थ्य मामलों के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल (DR. VK Paul) ने चेताया है कि कोवि़ड से जुड़े प्रोटोकॉल अगले साल भी का पालन करते रहना होगा. उन्होंने तीसरी लहर की आशंका से भी इनकार नहीं किया. उन्होंने कहा कि अगले साल तक मास्क लगाए रखना होगा. पॉल ने कहा कि अभी मास्क पहनना बंद नहीं होगा. अगले कुछ समय, यहां तक कि अगले साल तक हमें मास्क पहनते रहना होगा. पॉल ने कहा कि ऐसा इसलिए है क्योंकि कोविड के खिलाफ लड़ाई, अनुशासन, वैक्सीन और प्रभावकारी दवाओं के जरिए ही जीती जा सकती है. पॉल ने कहा- ‘मेरा मानना है कि इसे हम इस महामारी के समय से पार पा लेंगे.’

    तीसरी लहर की आशंका के बारे में पूछे जाने पर डॉ पॉल ने कहा कि इससे इनकार नहीं किया जा सकता है.एनडीटीवी के अनुसार पॉल ने कहा- ‘अगले तीन-चार महीने बहुत महत्वपूर्ण हैं. हमें खुद को सुरक्षित करने और प्रकोप से बचने की जरूरत है.’ डॉ पॉल ने आगामी त्योहारी सीजन के दौरान सुरक्षा कम करने के प्रति भी आगाह किया. उन्होंने कहा कि ऐसा करने से व्यापक रूप से संक्रमण फैल सकता है. उन्होंने कहा-‘हमारे सामने जोखिम भरा समय है. वक्त आने पर गाइडलाइन्स लागू की जानी चाहिए. सही समय पर हस्तक्षेप से संक्रमण को बढ़ने से रोका जा सकता है.’

    बता दें कोविड प्रोटोकॉल में मास्क पहनना, सैनिटाइज़र से हाथ धोना, सोशल डिस्टेंसिंग आदि शामिल है. संक्रामक रोगों से निपटने के लिए मास्क पहनना सबसे प्रभावी तरीकों में से एक माना जाता है.

    देश में कोविड संक्रमितों की संख्या 3,32,89,579
    मंगलवार को भारत में एक दिन में कोविड-19 के 25,404 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3 करोड़ 32 लाख 89 हजार 579 हो गई. वहीं, इलाज कराने वालों मरीजों की संख्या कम होकर 3 लाख 62 हजार 207 रह गई है. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार सुबह आठ बजे जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, संक्रमण से 339 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4 लाख 43 लाख 213 हो गई. पिछले 24 घंटे में इलाज कराने वालों की संख्या में कुल 12 हजार 062 मामलों की कमी आई. मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 97.58 प्रतिशत है.

    आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी तक कुल 54 करोड़ 44 लाख 44 हजार 967 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई है, जिनमें से 14 लाख 30 हजार 891 नमूनों की जांच सोमवार को की गई. दैनिक संक्रमण दर 1.78 प्रतिशत है, जो पिछले 15 दिन से तीन प्रतिशत से कम बनी है. वहीं, साप्ताहिक संक्रमण दर 2.07 प्रतिशत है, जो पिछले 81 दिन से तीन प्रतिशत से कम है. देश में अभी तक कुल 3 करोड़ 24 लाख 84 हजार 159 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और कोविड-19 मृत्यु दर 1.33 प्रतिशत है. आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की कुल 75.22 करोड़ खुराक दी जा चुकी हैं.

    देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी. वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए. देश में 19 दिसंबर को ये मामले एक करोड़ के पार, चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज