नितिन गडकरी ने दिलाया भरोसा- ऑटो इंडस्‍ट्री को आर्थिक सुस्‍ती से बचाने का हर प्रयास करेगी सरकार

केंद्रीय सड़क यातायात व राजमार्ग मंत्री ने ऑटोमाबाइल कंपनियों से बिक्री बढ़ाने के लिए इन-हाउस फाइनेंस कंपनियां बनाने को भी कहा.

News18Hindi
Updated: September 5, 2019, 6:22 PM IST
नितिन गडकरी ने दिलाया भरोसा- ऑटो इंडस्‍ट्री को आर्थिक सुस्‍ती से बचाने का हर प्रयास करेगी सरकार
नितिन गडकरी ने कहा, अगले तीन महीने में 5 लाख करोड़ रुपये की कीमत वाली 68 सड़क परियोजनाएं भी शुरू कर दी जाएंगी ताकि क‍मर्शियल वाहनों की मांग बढ़े.
News18Hindi
Updated: September 5, 2019, 6:22 PM IST
देश में हर तरफ आर्थिक सुस्‍ती (Economic Slowdown) की चर्चा हो रही है. इसका सबसे पहला असर ऑटोमोबाइल इंडस्‍ट्री (Automobile Industry) पर पड़ा और वाहनों की बिक्री घट गई. अब केंद्रीय सड़क यातायात व राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने भरोसा दिलाया है कि केंद्र सरकार ऑटो इंडस्‍ट्री को आर्थिक सुस्‍ती से बचाने का हरसंभव प्रयास करेगी. इसके लिए वित्‍त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) से ऑटो इंडस्‍ट्री की ओर से की जा रही कारों पर जीएसटी (GST) कम करने की मांग कोलेकर बात की जाएगी. इसके अलावा उनका मंत्रालय अगले तीन महीने में 5 लाख करोड़ रुपये की कीमत वाली 68 सड़क परियोजनाएं (Road Projects) भी शुरू कर देगी ताकि क‍मर्शियल वाहनों की मांग बढ़े.

वित्‍त मंत्री के सामने रखी जाएगी वाहनों पर जीएस घटाने की मांग
गडकरी ने कहा कि ऑटो उद्योग ने पेट्रोल और डीजल वाहनों पर टैक्‍स घटाने की मांग की थी. आपका यह सुझाव काफी अच्‍छा है. मैं इसे वित्‍त मंत्री के सामने रखूंगा. ऑटो मोबाइल मैन्‍युफक्‍चरर्स के संगठन सियाम (SIAM) के साला सम्‍मेलन में केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अगर जीएसटी कुछ समय के लिए ही घटा दिया जाए तो बेहतर होगा. उन्‍होंने माना कि इस समय ऑटो सेक्‍टर को वाहनों की बिक्री बढ़ाने के लिए मदद की दरकार है. जिस तरह से इलेक्ट्रिक वाहनों पर जीएसटी को 12 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी किया गया, इसी तरह का लाभ हाइब्रिड वाहनों को भी देने के लिए मैं वित्‍त मंत्री से बात करूंगा.

'पेट्रोल-डीजल वाहनों पर प्रतिबंध का नहीं है केंद्र को कोई इरादा'

केंद्रीय मंत्री ने 2007 में कहा था कि अगर इलेक्ट्रिक व्‍हीकल को आगे बढ़ाने के लिए ऑटो इंडस्‍ट्री ने कदम नहीं उठाए तो सब खत्‍म हो जाएगा. अब उन्‍होंने कहा है कि केंद्र सरकार की पेट्रोल और डीजल वाहनों को प्रतिबंधित करने की कोई मंशा नहीं है. उन्‍होंने कहा, 'चर्चा थी कि सरकार पेट्रोल और डीजल वाहनों को प्रतिबंधित करने की योजना बना रही है. मैं स्‍पष्‍ट कर देना चाहता हूं कि सरकार की ऐसा करने की कोई योजना नहीं है.' साथ ही उन्‍होंने कहा कि वह शुगर इंडस्‍ट्री की तरह ऑटोमोबाइल निर्माताओं को भी एक्‍सपोर्ट इनसेंटिव देने की संभावनाओं को लेकर वित्‍त मंत्री से चर्चा करेंगे.

'68 सड़क परियोजनाओं के लिए कर लिया गया है भू-अधिग्रहण'
सड़क निर्माण ठेकों के आवंटन पर गडकरी ने कहा कि सरकार अगले तीन महीने के भीतर 5 लाख करोड़ रुपये की सड़क परियोजनाओं के ठेके देने की कोशिश कर रही है. कई एक्‍सप्रेस-वे समेत हमने 68 परियोजनाओं को चुन लिया है. इन सड़क परियोजनाओं के लिए 80 फीसदी भू-अधिग्रहण भी कर लिया गया है. इन परियोजनाओं से ऑटो इंडस्‍ट्री को अप्रत्‍यक्ष लाभ मिलेगा. इन परियोजनाओं से कमर्शियल व्‍हीकल्‍स की मांग में इजाफा होगा. इसके अलावा उन्‍होंने ऑटोमाबाइल कंपनियों से बिक्री बढ़ाने के लिए इन-हाउस फाइनेंस कंपनियां बनाने को भी कहा.
Loading...

उदय कोटक ने ऑटोमोबाइल कंपनियों से आर्थिक सुस्‍ती से निपटने के लिए निर्यात पर जोर देने को कहा.


'सुस्‍ती से निपटने को निर्यात पर जोर दे ऑटोमोबाइल इंडस्‍ट्री'
कोटक महिंद्रा बैंक के एमडी व सीईओ और उद्योग संगठन सीआईआई (CII) के मानद अध्‍यक्ष उदय कोटक (Uday Kotak) ने ऑटोमोबाइल कंपनियों से आर्थिक सुस्‍ती से निपटने के लिए निर्यात पर जोर देने को कहा. उन्‍होंने कहा कि डॉलर के मुकाबले रुपया कमजोर होने के कारण एक्‍सपोर्ट में मदद भी मिलेगी. कार्यक्रम की शुरुआत में सियाम के अध्‍यक्ष राजन वढेरा ने सरकार से जीएसटी घटाने को लेकर विचार करने की मांग की. उन्‍होंने कहा कि इससे ऑटो इंडस्‍ट्री को आर्थिक सुस्‍ती से उबरने में थोड़ी मदद मिलेगी. वढेरा ने ऑटो इंडस्‍ट्री के लिए एक नियामक पर विचार करने की मांग भी की.

'सुस्‍ती के कारण ऑटो सेक्‍टर में गईं बड़ी संख्‍या में नौकरियां'
वढेरा ने बताया कि अर्थव्‍यवस्‍था के मौजूदा हालात के कारण ऑटो कंपनियों में 15,000 अनुबंधित नौकरियों चली गईं, जबकि डीलरशिप में 2.8 लाख लोगों की नौकरियां छिन गईं. इसके अलावा वाहनों के कंपोनेंट बनाने वाली कंपनियों में 10 लाख नौकरियां घट गईं. इस बीच मारुति सुजुकी इंडिया (Maruti Suzuki India) के सीईओ व एमडी केनिची अयुकावा ने गडकरी के सरकार की ओर से ऑटो इंडस्‍ट्री को हरसंभव मदद करने की बात का स्‍वागत किया. उन्‍होंने कहा कि ऑटो इंडस्‍ट्री सरकार की ओर से ठोस कदम उठाए जाने का बेसब्री से इंतजार कर रही है.

ये भी पढ़ें: 

जम्मू कश्मीर का रोडमैप: तैनात होगी CRPF-BSF की विशेष बटालियन, निवेशकों के लिए टैक्‍स हॉलीडे

अमेरिका के टर्नर फॉल के तालाब में डूब रहे दोस्‍त को बचाने में भारतीय छात्र की मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 5, 2019, 5:38 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...