Home /News /nation /

Nitin Gadkari's New Car: न पेट्रोल, न डीजल, जानें आखिर कैसे चलती है नितिन गडकरी की यह नई खास कार

Nitin Gadkari's New Car: न पेट्रोल, न डीजल, जानें आखिर कैसे चलती है नितिन गडकरी की यह नई खास कार

नितिन गडकरी हमेशा भविष्य में पेट्रोल पर कम निर्भरता की बात करते हैं. (फोटो: ANI)

नितिन गडकरी हमेशा भविष्य में पेट्रोल पर कम निर्भरता की बात करते हैं. (फोटो: ANI)

Nitin Gadkari's New Car: गाड़ी के इस्तेमाल को लेकर उन्होंने कहा, 'मैंने पायलट प्रोजेक्ट कार खरीदी है, जो फरीदाबाद स्थित ऑयल रिसर्च इंस्टीट्यूट में तैयार ग्रीन हाइड्रोजन पर चलेगी. मैं लोगों को भरोसा दिलाने के लिए शहर में इसे चलाऊंगा...' नवंबर में एक कार्यक्रम के दौरान गडकरी ने कहा था कि वह अगले दो-तीन दिन में कार कंपनियों के लिए अनिवार्य रूप से फ्लेक्स-ईंधन इंजन लाने का आदेश जारी करेंगे. फ्लेक्स-ईंधन इंजन में एक से अधिक ईंधनों का इस्तेमाल किया जा सकता है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. ईंधन के दूसरे विकल्पों का समर्थन करने वाले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने भी इस क्षेत्र में बड़ा कदम उठाया है. हाल ही में उन्होंने एक कार खरीदी है, जो न ही पेट्रोल और न ही डीजल या सीएनजी पर चलती है. केंद्रीय मंत्री के इस नए वाहन में हाइड्रोजन का इस्तेमाल किया जाता है. उन्होंने यह जानकारी भी दी है कि दिल्ली में इसका इस्तेमाल करेंगे, ताकि लोगों को विश्वास हो सके कि कार हाइड्रोजन (Hydrogen) पर भी अच्छा काम कर सकती है.

    गडकरी हमेशा भविष्य में पेट्रोल पर कम निर्भरता की बात करते हैं. वे इस बात की कल्पना करते हैं कि भारत पेट्रोल पर कम निर्भर रहे. वित्तीय समावेशन पर 6वें राष्ट्रीय शिखर सम्मेलन के दौरान गुरुवार को उन्होंने कहा, ‘मेरे पास बसों, ट्रकों और कारों को ग्रीन हाइड्रोजन पर चलाने की योजना है, जो सीवेज के पानी औऱ शहरों के कचरे से तैयार होगा.’ उन्होंने यह भी कहा कि वे कचरे से कीमत बनाने की कोशिश कर रहे हैं.

    यह भी पढ़ें: UP Assembly Election 2022: अखिलेश-जयंत 7 दिसंबर को संयुक्त रैली में करेंगे सपा-RLD गठबंधन का ऐलान!

    गाड़ी के इस्तेमाल को लेकर उन्होंने कहा, ‘मैंने पायलट प्रोजेक्ट कार खरीदी है, जो फरीदाबाद स्थित ऑयल रिसर्च इंस्टीट्यूट में तैयार ग्रीन हाइड्रोजन पर चलेगी. मैं लोगों को भरोसा दिलाने के लिए शहर में इसे चलाऊंगा…’ नवंबर में एक कार्यक्रम के दौरान गडकरी ने कहा था कि वह अगले दो-तीन दिन में कार कंपनियों के लिए अनिवार्य रूप से फ्लेक्स-ईंधन इंजन लाने का आदेश जारी करेंगे. फ्लेक्स-ईंधन इंजन में एक से अधिक ईंधनों का इस्तेमाल किया जा सकता है.

    गडकरी ने सोमवार को यहां एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि भारत हर साल आठ लाख करोड़ रुपये के पेट्रोलियम उत्पादों का आयात करता है. यदि भारत की पेट्रोलियम उत्पादों पर निर्भरता बनी रहती है, तो अगले पांच साल में आयात बिल बढ़कर 25 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच जाएगा. उन्होंने कहा, ‘पेट्रोलियम आयात को कम करने के लिए मैं अगले दो-तीन दिन में एक आदेश पर हस्ताक्षर करने जा रहा हूं. इसके तहत कार विनिर्माताओं के लिए फ्लेक्स-ईंधन इंजन लाना अनिवार्य होगा.’ गडकरी ने बताया कि टोयोटो मोटर कॉरपोरेशन, सुजुकी और हुंदै मोटर इंडिया के शीर्ष अधिकारियों ने अपने वाहनों में फ्लेक्स-ईंधन इंजन पेश करने का आश्वासन दिया है.

    (भाषा इनपुट के साथ)

    Tags: CNG, Diesel, Hydrogen, Nitin gadkari, Petrol

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर