• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • कोविड काल में लेक्‍चर दिया, यूट्यूब पर अपलोड किया, अब 4 लाख महीने मिल रहेः गडकरी

कोविड काल में लेक्‍चर दिया, यूट्यूब पर अपलोड किया, अब 4 लाख महीने मिल रहेः गडकरी

केंद्रीय मंत्री ने यूट्यूब के जरिए कमाई की बात साझा की है. ANI

केंद्रीय मंत्री ने यूट्यूब के जरिए कमाई की बात साझा की है. ANI

Nitin Gadkari ने एक कार्यक्रम में कहा, 'कोरोना काल में मैंने दो चीजें की. मैंने घर पर खाना बनाना शुरू किया और वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिये लेक्‍चर दिए.'

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्‍ली. कोरोना काल (Coronavirus) में पिछले कुछ महीने देश-दुनिया में हालात बेहद खराब थे. सबकुछ बंद हो रहा था और लोगों की नौकरियां जा रही थीं. ऐसे में कई लोगों ने यूट्यूब (youtube) या अन्‍य सोशल साइट्स से कमाई का जरिया खोजा था. इस बीच केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने भी यूट्यूब से कमाई होने की बात कही है. ANI के मुताबिक नितिन गडकरी ने एक कार्यक्रम में कहा, ‘कोरोना काल में मैंने दो चीजें की. मैंने घर पर खाना बनाना शुरू किया और वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिये लेक्‍चर दिए. मैंने उस दौरान काफी लेक्‍चर दिए. इन्‍हें यूट्यूब पर अपलोड किया गया. इसकी व्‍यूवरशिप अधिक है. अब यूट्यूब मुझे हर महीने 4 लाख रुपये दे रहा है.’

    ‘ससुर के घर पर बुलडोजर चलवा दिया’
    वहीं केंद्रीय मंत्री ने हाल ही में हरियाणा के सोहना में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सड़क और एक्सप्रेस-वे से जुड़े कामकाज के बारे में बताते हुए एक किस्सा सुनाया था. नितिन गडकरी ने बताया था कि कैसे उन्होंने अपने ससुर के घर पर बुलडोजर चलवा दिया था. नितिन गडकरी ने बताया था कि जब उनकी नई-नई शादी हुई थी, तब उनके ससुर का घर सड़क के बीच में आ रहा था. वहां के लोगों को ट्रैफिक जाम की समस्या से जूझना पड़ रहा था. ऐसे में वहां सड़क का निर्माण काफी जरूरी हो गया. ऐसे में उन्होंने अपनी पत्नी को बिना बताए ससुर के घर पर बुलडोजर चलवा दिया और सड़क भी बनवा दी. जिससे वहां के लोगों को जाम की समस्या से हमेशा के लिए निजात मिल गई.

    बता दें कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने 12 सितंबर को महाराष्ट्र के नागपुर (Nagpur) में सड़क दुर्घटनाओं को 50 फीसदी तक कम करने के उद्देश्य से प्रायोगिक आधार पर एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से संचालित परियोजना ‘आईआरएएसटीई’ का शुरुआत की है. इस दौरान वह काम में देरी करने वाले अफसरों पर भी जमकर बरसे थे. उन्‍होंने कहा था, ‘मुझे नतीजे देने वाले अफसर पसंद हैं. अपने काम में ढिलाई बरतने वाले अफसरों को डंडा मारने का काम मुझ पर छोड़ देना चाहिए.’

    कार्यक्रम के दौरान नितिन गडकरी ने कहा था कि काम में देरी करने वाले अफसरों पर शिकंजा कसा जाना चाहिए. उनके काम की देरी का प्रभाव सिस्‍टम पर भी पड़ता है. इससे सिस्‍टम सुस्‍त हो जाता है. उन्‍होंने आगे कहा था, ‘जो सिस्‍टम काम नहीं करता उसे उखाड़कर फेंक दो और डंडा मारने का काम मुझ पर छोड़ दो. कोई ढिलाई करेगा तो मैं उसे ठोके बिना नहीं छोड़ूंगा.’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज