महाराष्ट्र: नितिन गडकरी ने लिया रेमडेसिविर इंजेक्शन के प्रोडक्शन का जायजा, कोरोना के इलाज में होता है इस्तेमाल

नितिन गडकरी ने वर्धा में स्थित जेनेटिक लाइफ साइंसेज (फार्मेसी) का दौरा किया. (ANI Twitter/6 May 2021)

नितिन गडकरी ने वर्धा में स्थित जेनेटिक लाइफ साइंसेज (फार्मेसी) का दौरा किया. (ANI Twitter/6 May 2021)

Coronavirus Remdesivir Injection: रेमडेसिविर दवा का इस्तेमाल कोविड-19 के उपचार के लिए किया जाता है और रोजाना कोरोना के मामले बढ़ने से इसकी मांग में भी जबरदस्त इजाफा हुआ है.

  • Share this:

मुंबई. केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने गुरुवार को महाराष्ट्र के वर्धा में स्थित जेनेटिक लाइफ साइंसेज (फार्मेसी) का दौरा कर वहां पर हो रहे रेमडेसिविर इंजेक्शन के उत्पादन का जायजा लिया. रेमडेसिविर दवा का इस्तेमाल कोविड-19 के उपचार के लिए किया जाता है. देश में कोविड संक्रमण में भारी बढ़ोतरी के बीच रेमडेसिविर की मांग भी कई गुना बढ़ गई है.


केंद्रीय रसायन और उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने बीते चार मई को कहा था कि देश में रेमडेसिवीर का उत्पादन लगभग तीन गुना बढ़कर प्रतिमाह 1.05 करोड़ हो गया है और सरकार इस एंटीवायरल दवा की उपलब्धता बढ़ाने के लिए कड़ी मेहनत कर रही है.


Youtube Video

मंडाविया ने एक ट्वीट में कहा था कि दवा की उत्पादन क्षमता चार मई को प्रतिमाह 1.05 करोड़ शीशी को पार कर गई, जो इस साल 12 अप्रैल को 37 लाख शीशी थी. इस तरह उत्पादन क्षमता में लगभग तीन गुना वृद्धि हुई है.


उन्होंने कहा कि एक महीने पहले 20 संयंत्रों की तुलना में इस समय देश के 57 संयंत्रों में इस एंटीवायरल दवा का उत्पादन किया जा रहा है. उन्होंने कहा, 'जल्द ही, हम बढ़ी हुई मांग को पूरा करने में सक्षम होंगे.'


(इनपुट भाषा से भी)

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज