गडकरी का उद्धव सरकार को सुझाव- मुंबई की बारिश का पानी सिंचाई, उद्योग के लिए इस्तेमाल करें

नितिन गडकरी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर सुझाव दिया है. (File Photo)
नितिन गडकरी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर सुझाव दिया है. (File Photo)

Maharashtra News: केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि राज्य सरकार को शहर की सभी सड़कों को अलकतरे की जगह सीमेंट-कंक्रीट से बनाने की परियोजना शुरू करनी चाहिए क्योंकि तारकोल से बनी सड़कें भारी बारिश नहीं झेल पाती हैं.

  • Share this:
मुंबई. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Cabinet Minister Nitin Gadkari) ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Maharashtra's CM Uddhav Thackeray) को पत्र लिखकर सुझाव दिया है कि मुंबई की बारिश (Mumbai Rains) के पानी का इस्तेमाल सिंचाई, शहर के आसपास के उद्योगों और नासिक (Nashik) तथा अहमदनगर (Ahmednagar) जैसे शहरों में बागवानी के लिए किया जाए. गडकरी ने पत्र में कहा कि अतिरिक्त पानी को सूखा प्रभावित इलाकों में घरेलू और अन्य इस्तेमाल के लिए भी ले जाया सकता है, ताकि जल की कमी से पार पाया जा सके.

गडकरी ने कहा कि यदि व्यवस्थित रूप से योजना बनाई जाए तो बाढ़ के पानी, नाले और सीवेज को (मुंबई से सटे) ठाणे (Thane) की ओर मोड़ा जा सकता है और इस पानी को रास्ते में शोधित करके एक बांध में रखा जा सकता है. केंद्रीय परिवहन मंत्री ने कहा, "इस पानी का इस्तेमाल सिंचाई और शहर के आसपास के उद्योगों तथा नासिक एवं अहमदनगर जैसे नगरों में बागवानी के लिए किया जा सकता है." गडकरी ने पत्र में कहा कि यह योजना मुंबई में मीठी नदी (Meethi River) की वजह से उत्पन्न होने वाली परेशानियों को हल करने में मदद कर सकती है.

ये भी पढ़ें- सरकारी नौकरियों में महिलाओं को 33% आरक्षण देगी पंजाब सरकार, CM ने बताया ऐतिहासिक दिन



उन्होंने कहा, " मैं मीठी नदी पर एक बैराज बनाने का प्रस्ताव देता हूं और पानी समुद्र में प्रवाहित किया जा सकता है."
राज्य सरकार को दी इस तरह की सड़कें बनवाने की सलाह
केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि राज्य सरकार को शहर की सभी सड़कों को अलकतरे की जगह सीमेंट-कंक्रीट से बनाने की परियोजना शुरू करनी चाहिए क्योंकि तारकोल से बनी सड़कें भारी बारिश नहीं झेल पाती हैं.

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र में फिलहाल बंद रहेंगे धार्मिक स्थल, कल से शुरू होगी मेट्रो

गडकरी ने अपने इस पत्र की एक प्रति राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार (Nationalist Congress Party Chief Sharad Pawar), राज्य के उपमुख्यमंत्री अजित पवार (Deputy CM Ajit Pawar) और मंत्री बालासाहेब थोराट (Balasaheb Thorat), अशोक चव्हाण (Ashok Chavhan) तथा जयंत पाटिल (Jayant Patil) को भी भेजी है.

महाराष्ट्र में शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस गठबंधन की सरकार है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज