अपना शहर चुनें

States

Cyclone Update: नजदीक आ रहा है 'निवार', ममल्लापुरम में चलने लगी हैं तेज हवाएं; देखें वीडियो

(फोटो: ANI/Twitter)
(फोटो: ANI/Twitter)

Nivar Cyclone Updates: एनडीआरएफ (NDRF) के प्रमुख एसएन प्रधान का कहना है कि निवार बहुत ही गंभीर श्रेणी में आ गया है. सुरक्षा के मद्देनजर तमिलनाडु से 30 हजार और पुडुचेरी से 7 हजार लोगों को निकाल लिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 25, 2020, 5:23 PM IST
  • Share this:
चेन्नई. बंगाल की खाड़ी (Bay of Bengal) के दक्षिण-पश्चिम क्षेत्र से उठे गंभीर साइक्लोनिक तूफान निवार नजदीक आ रहा है. करइकल और ममल्लापुरम के बीच निवार के कारण भूस्खलन (landfall) की आशंका के बीच ममल्लापुरम में तेज हवाएं चलने लगी हैं. मौसम विभाग ने भी आशंका जताई है कि तूफान आज मध्यरात्रि या 26 नवंबर की अल सुबह तमिलनाडु और पुडुचेरी के तटों से टकरा सकता है. हालांकि, सरकार भी तूफान से निपटने के लिए तैयारियों में जुटी हुई है. तमिलनाडु में आज एक दिन की छुट्टी का ऐलान किया गया है. जबकि, पुडुचेरी में तीन दिन तक धारा 144 लगाए जाने की घोषणा हो चुकी है.

माना जा रहा है कि निवार तूफान समय के साथ और विकराल हो रहा है. तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और पुडुचेरी में करीब 1200 एनडीआरएफ जवानों की तैनाती की गई है. वहीं, अन्य 800 राहतकर्मियों को तैयार रहने के लिए कहा गया है. एनडीआरएफ के प्रमुख एसएन प्रधान का कहना है कि वे दक्षिणी तटीय इलाके की तरफ बढ़ रहे बंगाल की खाड़ी से उठे इस तूफान के गंभीर रूप का सामना करने के लिए तैयार हैं.


तमिलनाडु और पुडुचेरी से 30 हजार लोगों को हटाया गयाप्रधान ने जानकारी दी कि तमिलनाडु से 30 हजार और पुडुचेरी से 7 हजार लोगों को निकाल लिया गया है. उन्होंने बताया कि केंद्र, राज्य और स्थानीय सरकारें मिलकर काम कर रही हैं और होने वाले नुकसान को कम से कम किए जाने का प्रयास जारी है. उन्होंने बताया कि निवार साइक्लोन बहुत ही गंभीर श्रेणी में आ गया है. इस वजह से हम बुरे से बुरे हालातों के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कि हमारी टीमें बीते 2 दिनों से तैनात हैं. अब तक तमिलनाडु, पुडुचेरी और आंध्र प्रदेश में 25 टीमों को तैनात किया जा चुका है. इसके अलावा चेन्नई के तट पर भी भारतीय कोस्टगार्ड राहत सामग्री लेकर जलयान के साथ तैनात हैं.



ट्रांसपोर्ट पर असर
निवार तूफान की वजह से देश के दक्षिणी राज्यों में रेल, बस और हवाई सेवा भी काफी प्रभावित हुई है. तमिलनाडु के कई जिलों में बस सेवा को रद्द कर दिया गया है. राज्य सरकार ने कहा है कि इस दौरान जरूरी सामान वाली गाड़ियां जारी रहेंगी. वहीं, कई ट्रेनें और हवाई यात्राएं भी रद्द कर दी गई हैं.

राज्य के मुख्यमंत्री एडापड्डी के पलानीस्वामी ने लोगों से घर में रहने की अपील की है. उन्होंने कहा है कि 4 हजार से ज्यादा 'खतरे' वाली जगहों की पहचान कर ली गई है और स्थानीय अधिकारियों से लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है. इससे पहले पुडुचेरी की लेफ्टिनेंट गवर्नर किरण बेदी ने भी लोगों से घरों में रहने की अपील की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज