होम /न्यूज /राष्ट्र /

मॉनसून सत्र LIVE: मोदी सरकार के खिलाफ अविश्‍वास प्रस्‍ताव गिरा, सरकार को मिले 325 वोट

मॉनसून सत्र LIVE: मोदी सरकार के खिलाफ अविश्‍वास प्रस्‍ताव गिरा, सरकार को मिले 325 वोट

केंद्र की एनडीए सरकार के खिलाफ पिछले चार साल में विपक्ष के पहले अविश्वास प्रस्ताव पर आज चर्चा के दौरान सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच आरोपों के तीखे तीर चले.

  • News18Hindi
  • | July 20, 2018, 23:19 IST
    LAST UPDATED 4 YEARS AGO
    23:13 (IST)
    सदन की कार्यवाही सोमवार तक के लिए स्थगित

    23:13 (IST)

    अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के बाद सरकार के पक्ष  में पड़े 325 वोट.

    23:11 (IST)
    12 घंटे तक बहस के बाद लोकसभा में गिरा अविश्वास प्रस्ताव. अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में मात्र 126 वोट पड़े जबकि 325 सदस्यों ने इसके खिलाफ मतदान किया.

    23:07 (IST)
    बीजू जनता दल और शिवसेना ने अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग से वॉकआउट किया 

    23:03 (IST)
    लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिग शुरू 

    23:02 (IST)
    डेढ़ घण्टे तक मैं यह सोचता रहा कि मैं कोई ब्लॉकबस्टर फिल्म देख रहा हूं. मुझे इस बात पर कोई शक नहीं कि प्रधानमंत्री दुनिया के सबसे अच्छे बेहतरीन एक्टर हैं: टीडीपी सांसद केसिनेनि श्रीनिवास

    22:49 (IST)
    फिर सभी को 2024 में अविश्वास प्रस्ताव लाने का निमंत्रण देता हूं- प्रधानमंत्री मोदी.

    22:48 (IST)

    बदलते वैश्वकि परिदृश्य में सबको साथ मिलकर चलने की जरूरत- पीएम मोदी 

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार के खिला लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव गिर गया है. सरकार को वोटिंग में 325 वोट मिले जबकि विपक्ष केवल 126 वोट जुटा पाया. इससे पहले पीएम मोदी ने विपक्ष के आरोपों का जोरदार अंदाज में जवाब दिया. उन्‍होंने विपक्ष के अविश्‍वास प्रस्‍ताव का जवाब शायरी के साथ शुरू किया. उन्‍होंने कहा, 'न मांझी न रहबर न हक में हवाएं हैं, किश्ती भी जर्जर, ये कैसा सफर है.' इसके बाद पीएम ने कहा कि यह अविश्‍वास प्रस्‍ताव सरकार के खिलाफ नहीं बल्कि कांग्रेस और उसके साथी दलों के लिए है. मोदी ने कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्‍हें पीएम की कुर्सी तक पहुंचने की जल्‍दबाजी है. इसके बाद उन्‍होंने रोजगार, अर्थव्‍यवस्‍था, मॉब लिंचिंग, आंध्र प्रदेश स्‍पेशल पैकेज और जीएसटी पर विपक्ष पर करारा हमला किया.

    इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि पीएम ने राफेल डील के मामले में देश को गुमराह किया और झूठ बोला. बीजेपी इस मामले में राहुल गांधी के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव लाएगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण के साथ अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा समाप्त होगी. इसके बाद प्रस्ताव पर वोटिंग होगी.

    केंद्र की एनडीए सरकार के खिलाफ पिछले चार साल में विपक्ष के पहले अविश्वास प्रस्ताव पर आज चर्चा के दौरान सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच आरोपों के तीखे तीर चले. कांग्रेस ने जहां सरकार पर किसानों, रोजगार, महिला सुरक्षा जैसे चुनावी वादे पूरा नहीं करने का आरोप लगाया, वहीं भाजपा ने कहा कि कांग्रेस ने 48 वर्षो के शासन में घोटालों की राजनीति की, जबकि नरेंद्र मोदी की सरकार ने पिछले 48 महीने में योजनाओं की राजनीति की है. लोकसभा में सरकार के खिलाफ विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा में हिस्सा लेते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल लड़ाकू विमान सौदे में धांधली का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दबाव में रक्षा मंत्री ने राफेल सौदे को लेकर झूठा बताया.

    अविश्वास प्रस्ताव से जुड़े हर अपडेट के लिए पढ़ते रहें News18 Hindi...

    विज्ञापन