किसी को याद नहीं, किस कार में किया गया था शीना का कत्ल!

किसी को याद नहीं, किस कार में किया गया था शीना का कत्ल!
इंद्राणी संजीव खन्ना से 2009 से संपर्क में थी, और उसे उसी समय से काफी मदद करती थी। उसने अपने पैसों से संजीव के लिए कोलकाता में एक रिसोर्ट और फ्लैट खरीदा था।

इंद्राणी संजीव खन्ना से 2009 से संपर्क में थी, और उसे उसी समय से काफी मदद करती थी। उसने अपने पैसों से संजीव के लिए कोलकाता में एक रिसोर्ट और फ्लैट खरीदा था।

  • News18India
  • Last Updated: August 29, 2015, 1:21 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली। शीना बोरा मर्डर केस की जांच कर रही मुंबई पुलिस को अब उस कार की तलाश है जिसमें शीना का मर्डर किया गया था। हालांकि पुलिस शीना की मां इंद्राणी मुखर्जी, सौतेले पिता संजीव खन्ना और ड्राइवर श्याम राय को गिरफ्तार कर लगातार पूछताछ कर रही है लेकिन इनमें से कोई भी उस कार के बारे में सही-सही बताने में नाकाम रहा है। पुलिस के लिए शीना की हत्या की जांच पूरी करने के लिए उस कार को बरामद करना बहुत जरूरी है। यही नहीं शीना की हत्या किसने की इसके बारे में भी तीनों आरोपी अलग-अलग बयान दे रहे हैं।

पुलिस के मुताबिक शीना के सौतेले पिता संजीव खन्ना ने वारदात में शामिल होने की बात कबूल कर ली है। आरोप है कि उसने इंद्राणी के साथ मिलकर शीना की हत्या की थी और बाद में शव को रायगढ़ ले जाकर ठिकाने लगा दिया। संजीव खन्ना ने पुलिस को बताया कि वो हत्या के दिन अपनी बेटी को मुंबई लेने आया था। संजीव का कहना है कि खून ड्राइवर ने किया है।

दूसरी तरफ ड्राइवर श्याम राय का कहना है कि वो सिर्फ कार चला रहा था और शीना का खून इंद्राणी मुखर्जी और संजीव खन्ना ने किया है। उधर संजीव ने पुलिस को बताया है कि जिस कार में कत्ल हुआ था, वो कार उसने इंद्राणी के पास कभी नहीं देखी थी। पुलिस को शक है कि कत्ल के लिए कार को किराये पर लिया गया होगा क्योंकि किसी भी आरोपी को याद नहीं है कि कार कौन सी थी।



उधर, इंद्राणी मुखर्जी पूछताछ में अब तक पुलिस की मदद नहीं कर रही है। लिहाजा पुलिस ने शुक्रवार को इंद्राणी के मौजूदा पति और स्टार इंडिया के पूर्व सीईओ पीटर मुखर्जी को बुलाकर उनसे इंद्राणी का सामना कराया। इंद्राणी के खिलाफ पुलिस आपराधिक साजिश की धारा 120 भी जोड़ने की तैयारी कर रही है। शीना मर्डर केस के तीनों आरोपियों संजीव खन्ना, इंद्राणी मुखर्जी और ड्राइवर श्याम पर किडनैपिंग, मर्डर और सबूत मिटाने की धारा लगी हुई है।
सूत्रों के मुताबिक इंद्राणी अपने दूसरे नंबर के पति आरोपी संजीव खन्ना से 2009 से संपर्क में थी, और उसे उसी समय से काफी मदद करती थी। उसने अपने पैसों से संजीव के लिए कोलकाता में एक रिसोर्ट और एक फ्लैट खरीदा था। पुलिस का मानना है कि इंद्राणी ने पैसों का लालच देकर संजीव को 23 अप्रैल 2012 को मुंबई बुलाया और वर्ली के होटल में उसके रुकने का इंतजाम करवाया। जिसके बाद प्लान के मुताबिक दूसरे दिन 24 अप्रैल को दोनों ने मिलकर शीना की हत्या कर दी।
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading