भारत ने ट्रंप को फिर दिया दो टूक जवाब, 'कश्मीर में तीसरे पक्ष की भूमिका नहीं'

भारत ने ट्रंप को फिर दिया दो टूक जवाब, 'कश्मीर में तीसरे पक्ष की भूमिका नहीं'
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने एक बार फिर से ट्रंप को दो टूक जवाब देकर बता दिया कि इस मसले पर तीसरे पक्ष की भूमिका नहीं है. फाइल फोटो

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) ने एक बार फिर कश्मीर (Kashmir) मसले पर सहयोग की बात कही थी, इस पर भारत ने एक बार फिर साफ कर दिया है कि जम्मू कश्मीर (Jammu and Kashmir) के मसले पर तीसरे पक्ष की कोई भूमिका नहीं है.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत ने गुरुवार को एक बार फिर स्पष्ट किया कि कश्मीर (Jammu Kashmir) मामले पर किसी तीसरे पक्ष की कोई भूमिका नहीं है और बातचीत के लिए उपयुक्त माहौल बनाने की जिम्मेदारी पाकिस्तान (Pakistan) की है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार (Raveesh Kumar) ने कहा, ‘कश्मीर मामले पर हमारा रूख स्पष्ट और स्थिर है. कश्मीर मामले पर किसी तीसरे पक्ष की कोई भूमिका नहीं है.’विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता से भारत एवं पाकिस्तान के बीच विवाद सुलझाने में मदद को लेकर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) के बयान के बारे में सवाल पूछा गया था.

उन्होंने कहा कि कश्मीर पर हमारा रुख स्पष्ट और स्थिर है, इसमें किसी तीसरे पक्ष की कोई भूमिका नहीं है. अगर कोई द्विपक्षीय मामला आता है तब दोनों देशों को द्विपक्षीय ढंग से सुलझाया जाना चाहिए जो शिमला समझौता और लाहौर घोषणापत्र की तहत हो. रवीश कुमार ने कहा, ‘वार्ता के लिए उपयुक्त माहौल तैयार करना पाकिस्तान का दायित्व है जो आतंकवाद, शत्रुता और हिंसा से मुक्त हो.’उन्होंने कहा कि तभी दोनों देशों के बीच कोई अर्थपूर्ण बातचीत हो सकती है.

दावोस में ट्रंप ने जताई थी इच्छा
बता दें कि दावोस में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा था कि वाशिंगटन कश्मीर के मुद्दे को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच घटनाक्रम पर ‘करीबी नजर’रख रहा है. उन्होंने यहां पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ मुलाकात में एक बार फिर दोनों पड़ोसी देशों के बीच विवाद को सुलझाने में ‘मदद’ की बात कही थी.



पहले भी भारत कर चुका है इनकार


भारत इससे पहले भी साफ कर चुका है कि वह इस मसले पर किसी तीसरे पक्ष की भूमिका स्वीकार नहीं करेगा. लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप बार बार किसी न किसी बहाने इस मुद्दे पर तीसरा पक्ष बनने की बात कहकर इसे हवा देने की कोशिश करते हैं. पाकिस्तान इस मुद्देे को किसी न किसी बहाने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उछालने की नाकाम कोशिश करता रहता है.

यह भी पढ़ें...
इमरान खान को आई अक्ल, कहा-भारत से रिश्ते बेहतर हों तो सुधरेंगे PAK के हालात
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading