शाह का कार्यकर्ताओं को संदेश- महागठबंधन से कोई खतरा नहीं, 2014 में सबको हराया था

नई दिल्‍ली में बीजेपी राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में महागठबंधन को ढकोसला करार दिया गया और इसे भ्रांतियों पर आधारित बताया.

News18Hindi
Updated: September 8, 2018, 11:19 PM IST
शाह का कार्यकर्ताओं को संदेश- महागठबंधन से कोई खतरा नहीं, 2014 में सबको हराया था
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी को संबोधित किया.
News18Hindi
Updated: September 8, 2018, 11:19 PM IST
बीजेपी ने अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में 2014 से भी अधिक बहुमत से सरकार बनाने का संकल्प लिया है. नई दिल्‍ली में बीजेपी राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में महागठबंधन को ढकोसला करार दिया गया और इसे भ्रांतियों पर आधारित बताया. केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमन ने पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह के हवाले से कहा कि महागठबंधन से कोई असर नहीं होगा क्‍योंकि 2014 में पार्टी सभी दलों को हरा चुकी है.

शाह ने पार्टी नेताओं से कहा कि बीजेपी की 19 राज्‍यों में सरकार है और उसका देश के 75 फीसदी हिस्‍से पर शासन है. हमें लापरवाह नहीं होना है और 2019 में पहले से बड़ी जीत के काम करना चाहिए. बीजेपी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पार्टी मेकिंग इंडिया के लिए काम कर रही है जबकि कांग्रेस ब्रेकिंग इंडिया में व्‍यस्‍त हैं. शाह ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि पी चिदम्‍बरम जैसे कांग्रेस नेताओं के दावों को तथ्‍यों के साथ चुनौती दें.

पार्टी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों और राज्य इकाई के अध्यक्षों की बैठक में ‘अजेय भाजपा’ के नारे को स्‍वीकार किया गया. सूत्रों ने बताया कि पदाधिकारियों की बैठक के दौरान पार्टी शीर्ष नेतृत्व ने इस बात पर जोर दिया कि अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति से जुड़े मुद्दे पर भ्रम फैलाने का काम किया जा रहा है हालांकि इसका चुनाव पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा.

बैठक के दौरान आने वाले समय में होने वाले विधानसभा सभा चुनाव पर भी चर्चा की गई और इस बात पर जोर दिया गया कि तेलंगाना में पार्टी पूरी ताकत से चुनाव लड़ेगी.

सूत्रों ने बताया कि बैठक में इस साल के अंत तक मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान सहित पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में जीत के लिये पूरा जोर लगाने का संकल्प लिया गया. मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में होने वाले विधानसभा के लिये भाजपा ने विशेष जोर लगाने की प्रतिबद्धता जताई.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर