अगले साल से पहले तैयार नहीं होगी कोरोना वैक्सीन-संसदीय पैनल के सामने अधिकारी का दावा

अगले साल से पहले तैयार नहीं होगी कोरोना वैक्सीन-संसदीय पैनल के सामने अधिकारी का दावा
विज्ञान मंत्रालय ने भी कह दिया था कि 2021 से पहले वैक्सीन के इस्तेमाल में आने की संभावना नहीं है.

वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना वायरस (Coronavirus) की वैक्सीन (Vaccine) को लेकर कई तरह के दावे किए जा रहे हैं. वहीं, शुक्रवार को एक संसदीय पैनल के सामने पेश हुए अधिकारियों ने कहा कि कोरोना वायरस का कोई टीका (Corona Vaccine) अगले साल से पहले तैयार नहीं होगा. विज्ञान और प्रौद्योगिकी, पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन संबंधी संसदीय स्थाई समिति की शुक्रवार को पहली बार बैठक हुई.

  • Share this:
नई दिल्ली. वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना वायरस (Coronavirus) की वैक्सीन (Vaccine) को लेकर कई तरह के दावे किए जा रहे हैं. वहीं, शुक्रवार को एक संसदीय पैनल के सामने पेश हुए अधिकारियों ने कहा कि कोरोना वायरस का कोई टीका (Corona Vaccine) अगले साल से पहले तैयार नहीं होगा. विज्ञान और प्रौद्योगिकी, पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन संबंधी संसदीय स्थाई समिति की शुक्रवार को पहली बार बैठक हुई. इस बैठक में कोरोना वायरस की वैक्सीन को लेकर क्या अपडेट है इस पर भी बातचीत हुई.

इस बैठक में अधिकारियों ने कहा कि अगले साल से पहले कोरोना वैक्सीन तैयार नहीं होगी. इस पैनल की बैठक की अध्यक्षता कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने की, क्योंकि कोरोना लॉकडाउन के कारण 23 मार्च से संसद को असमय के लिए स्थगित कर दिया गया था. इससे पहले विज्ञान मंत्रालय ने भी कह दिया था कि 2021 से पहले कोरोना वायरस वैक्सीन के इस्तेमाल में आने की संभावना नहीं है. विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कहा था कि 140 वैक्सीन में से 11 ह्मूमन ट्रायल के लिए तैयार हैं लेकिन अगले साल तक बड़े पैमाने पर इस्तेमाल की गुंजाइश कम ही नजर आती है. वैज्ञानिक एवं औद्योगिक विकास परिषद CSIR- CCMB के शीर्ष अधिकारी ने कहा था कि इस प्रक्रिया में कई क्लीनिकल ट्रायल करने पड़ते हैं और इसलिए एक साल से पहले वैक्सीन को लाना संभव नहीं है.


जानवरों पर टीके का परीक्षण हुआ पूरा
इससे पहले गुरुवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया था कि भारत बायोटेक (Bharat Biotech) और कैडिला हेल्थकेयर (Cadila Healthcare) कोरोना के टीके (Vaccines) विकसित कर चुके हैं. दोनों टीकों के अनुमोदन के बाद जानवरों पर इसके ट्रायल और स्टडी को पूरा कर लिया है. डीसीजीआई ने चरण 1 और 2 नैदानिक ​​परीक्षणों में जाने के लिए इन 2 टीकों को अधिकृत किया है. स्वास्थ्य मंत्रालय के ओएसडी राजेश भूषण ने कहा अभी इनका ह्यूमन ट्रायल शुरू होना है. आशा है कि यह जल्द ही शुरू होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading