18+वालों का रजिस्ट्रेशन आज से शुरू, सीधे वैक्सीन सेंटर पर नहीं करा सकेंगे कोरोना वैक्सीनेशन

18+ वाले आज से रजिस्ट्रेशन करवा सकेंगे. (सांकेतिक तस्वीर)

18+ वाले आज से रजिस्ट्रेशन करवा सकेंगे. (सांकेतिक तस्वीर)

दरअसल अब तक उन लोगों को सीधे वैक्सीन सेंटर पर जाकर वैक्सीनेशन (Covid-19 Vaccination) की अनुमति दी जा रही थी जो किसी कारणवश रजिस्ट्रेशन नहीं करवा पा रहे थे. अब सोशल डिस्टेंसिंग और भीड़भाड़ का खयाल रखते हुए इस प्रक्रिया को रोका गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 28, 2021, 5:34 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत में आज से 18+ उम्र के सभी लोगों के कोरोना वैक्सीनेशन (Covid-19 Vaccination) के रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया की शुरू हो जाएगी. एक मई से नए नियमों के साथ 18 वर्ष की उम्र से ऊपर सभी लोगों (All Adults) का वैक्सीनेशन शुरू कर दिया जाएगा. अब रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया आरोग्य सेतु ऐप के जरिए भी पूरी की जा सकेगी. कोविन ऐप और आरोग्य सेतु के जरिए कोई व्यक्ति परिवार के चार सदस्यों का कोरोना वैक्सीनेशन करवा सकता है. दरअसल ये प्लेटफॉर्म लोगों को नजदीकी (सरकारी और प्राइवेट) कोविड वैक्सीन सेंटर पर जाने की अनुमति प्रदान करते हैं. इनके जरिए वैक्सीनेशन का स्लॉट बुक कराया जा सकता है. नागरिकों के पास वैक्सीनेशन स्लॉट बदलने या फिर उसे कैंसिल कराने का भी विकल्प मौजूद होता है.

सीएनएन-न्यूज़18 से बात करते हुए कोविन ऐप के चीफ आरएस शर्मा विस्तार में बताते हैं कि कैसे इन प्लेटफॉर्म के जरिए बिना किसी दिक्कत रजिस्ट्रेशन और वैक्सीनेशन करवाया जा सकता है. यह याद रखने वाली बात है कि 1 मई से सीधे वैक्सीन सेंटर पर जाकर वैक्सीनेशन नहीं करवाया जा सकेगा. शर्मा कहते हैं-ऐसा इसलिए किया जा रहा है जिससे वैक्सीनेशन सेंटर पर सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे और एक साथ ज्यादा संख्या में लोग न पहुंचने पाएं.

वो कहते हैं कि सीधे वैक्सीन सेंटर पर जाकर वैक्सीनेशन की छूट अंतत: उन सेंटर्स पर दी जाएगी जहां पर भीड़ लगने की आशंका न हो. दरअसल अब तक उन लोगों को सीधे वैक्सीन सेंटर पर जाकर वैक्सीनेशन की अनुमति दी जा रही थी जो किसी कारणवश रजिस्ट्रेशन नहीं करवा पा रहे थे.

60 से 70 लाख लोगों के हर दिन रजिस्ट्रेशन की उम्मीद 
शर्मा का कहना है कि करीब 60 से 70 लाख लोगों के हर दिन रजिस्ट्रेशन की उम्मीद की जा रही है. वो कहते हैं-आखिरी बीर ये संख्या करीब 50 लाख थी. लेकिन अब उम्मीद कर रहे हैं कि संख्या बढ़ेगी क्योंकि अब सभी वयस्क लोगों को वैक्सीनेशन की छूट दे दी गई है. वो यह भी कहते हैं कि ऐसी स्थिति में ऐप को मैनेज करने में कोई दिक्कत नहीं आने वाली.

प्राइवेट कंपनियों द्वारा अपने कर्मचारियों का वैक्सीनेशन करवाए जाने पर शर्मा कहते हैं कि उन्हें इसके बारे में सार्वजनिक तौर पर बताने की जरूरत नहीं है. कंपनियों को हमें अपने वैक्सीनेशन शिविर के बारे में जानकारी देनी होगी जिससे जिससे हम उन्हें वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट दे सकें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज