हिंसक प्रदर्शनों के बावजूद सबरीमाला मंदिर में प्रवेश कर रहीं महिलाएं!

हिंसक प्रदर्शनों के बावजूद सबरीमाला मंदिर में प्रवेश कर रहीं महिलाएं!
(सांकेतिक तस्वीर)

सबरीमाला में हर उम्र की महिलाएं के प्रवेश पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद केरल में लंबे समय से प्रोटेस्ट जारी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 19, 2018, 5:38 AM IST
  • Share this:
केरल के ऊर्जा मंत्री एम एम मणि ने कहा है कि राजनीतिक पार्टियों के हस्तक्षेप और श्रद्धालुओं के हिंसक प्रदर्शनों के बावजूद  सबरीमाला मंदिर में सभी उम्र की महिलाएं भगवान अयप्पा के दर्शन कर रही हैं. सीपीआई(एम) के मंत्री मणि ने कहा, 'हमरे पास क्षमता है कि हम सबरीमाला मंदिर में 1 लाख श्रद्धालुओं को भेज सकते हैं. कोई हमें ऐसा करने से नहीं रोक सकता.'

केरल के सबरीमाला मंदिर में 10 से 50 साल की महिलाओं को प्रवेश करने की इजाजत नहीं है. सुप्रीम कोर्ट ने इस मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के दरवाजे जरूर खोले लेकिन इसके बाद भी विरोध के चलते यहां महिलाओं का आना बेहद मुश्किल है.

मीडिया से बातचीत करते हुए मंत्री ने कहा हमने मंदिर परिसर में जाने वाली सभी महिलाओं को सुरक्षा देने की पूरी कोशिश की, जो मंदिर जाना चाहती थीं. हम सुप्रीम कोर्ट के निर्णय का शांतिपूर्ण तरीके से पालन कर रहे हैं.



ये भी पढ़ें: सबरीमाला : पुलिस स्‍टेशन नहीं पहुंचने पर राहुल ईश्‍वर की बेल रद्द
(फाइल फोटो- एम एम मणि)


अपने बयान को दोहराते हुए मंत्री ने सब कुछ सही ढंग से चलने की बात कही. उन्होंने कहा, 'जो भी महिलाएं मंदिर में प्रवेश करना चाहती हैं उनकी पूरी सुरक्षा दी जाएगी. कोर्ट की ओर से कोई ऐसा आदेश नहीं आया है जिसके मुताबिक जो ऐसा नहीं करना चाहती उन महिलाओं को सजा दी जाए.'

सबरीमाला में सभी उम्र की महिलाएं को एंट्री देने वाले सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद केरल में लंबे समय से प्रोटेस्ट जारी है.


बता दें कि भगवान अयप्पा के दर्शन के लिए शनिवार को 30 से ज्यादा महिलाओं के एक ग्रुप ने चेन्नई से सबरीमाला जाने का संकल्प लिया है. वे सब मंदिर जाने के लिए पूरी तरह से तैयार भी हैं. इन ग्रुप की सभी महिलाओं की उम्र 35 से 40 साल के बीच है और यह एक ऐसे संगठन से हैं जो बच्चों और महिलाओं के कल्याण से जुड़ा काम करता है.

यह भी पढ़ें-
सबरीमाला: पुलिस ने चार ट्रांसजेंडरों को मंदिर में प्रवेश करने से रोका


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज