• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • Assam-Mizoram Border Row: असम के सीएम ने मिजोरम पर मढ़ा सीमा विवाद का दोष, कहा- एक इंच भी जमीन नहीं छोड़ेंगे

Assam-Mizoram Border Row: असम के सीएम ने मिजोरम पर मढ़ा सीमा विवाद का दोष, कहा- एक इंच भी जमीन नहीं छोड़ेंगे

असम सरकार ने पांच पुलिसकर्मियों और एक आम नागरिक की मौत के बाद राज्य में तीन दिनों के राजकीय शोक की घोषणा की है. (फोटो: News18 English)

असम सरकार ने पांच पुलिसकर्मियों और एक आम नागरिक की मौत के बाद राज्य में तीन दिनों के राजकीय शोक की घोषणा की है. (फोटो: News18 English)

Assam-Mizoram Border dispute: सिलचर पहुंचे सीएम हिमंत बिस्व सरमा ने कहा, 'असम का एक इंच भी नहीं छोड़ा जाएगा. और सीमाओं पर डटे सभी जवानों को असम सरकार की तरफ से एक महीने का अतिरिक्त वेतन दिया जाएगा.'

  • Share this:

    नई दिल्ली. मिजोरम के साथ सीमा विवाद (Interstate Border Dispute) के बीच असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma) ने साफ कर दिया है कि जमीन का एक इंच भी मिजोरम को नहीं दिया जाएगा. सोमवार रात दोनों राज्यों की सीमा पर हुई हिंसक झड़प में असम पुलिस के 5 जवान और एक नागरिक की मौत हो गई थी. सरमा ने मंगलवार को हिंसा में जान गंवाने वाले पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि दी. साथ ही असम सरकार ने पीड़ितों को 50 लाख रुपये का मुआवजा देने का भी ऐलान किया है.

    सिलचर पहुंचे सीएम सरमा ने कहा, ‘असम का एक इंच भी नहीं छोड़ा जाएगा. और सीमाओं पर डटे सभी जवानों को असम सरकार की तरफ से एक महीने का अतिरिक्त वेतन दिया जाएगा.’ उन्होंने कहा, ‘मैंने मेघालय के सीएम से 6 बार बात की है. विकास के लिए इस तरह के मुद्दों को सुलझाया जाना चाहिए. जिस पल गोलीबारी शुरू हुई, मैंने मेघालय के सीएम को नियंत्रित करने के लिए कहा.’

    यह भी पढ़ें: Assam-Mizoram Border Dispute: असम-मिजोरम सीमा विवाद सुलझाने के लिए एक्शन में गृह मंत्रालय, CRPF की चार टीम तैनात

    तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा
    असम सरकार ने पांच पुलिसकर्मियों और एक नागरिक की मौत के बाद राज्य में मंगलवार से तीन दिनों के राजकीय शोक की घोषणा की है. प्रशासन विभाग ने जानकारी दी है कि इस दौरान राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा और कोई सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं होगा.

    इस दौरान सरमा ने मिजोरम सरकार पर आरोप लगाए हैं. उन्होंने कहा, ‘हमने चर्चा की और नई चौकी से जुड़े मुद्दे को सुलझाने की अपील की. 30 मिनट की गोलीबारी में एलएमजी का इस्तेमाल किया गया. हम इस बात को सुनिश्चित करेंगे कि भविष्य की पीढ़ियों के लिए असम और मिजोरम के जंगली इलाके बचे रहेंगे. सैटेलाइट की तस्वीरें दिखाती हैं कि मिजोरम ने इन इलाकों में कुछ बस्तियां बनाई हैं. इन रिजर्व फॉरेस्ट्स को संरक्षित किए जाने की जरूरत है.’

    इससे पहले सरमा ने दावा किया था कि झड़प के दौरान 6 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी. दोनों राज्यों की तरफ से जंगल के इलाकों में अतिक्रमण के आरोप लगाए जा रहे थे. इसके चलते ही सीमा पर हिंसा बढ़ी, जिसमें असम के पांच पुलिसकर्मियों ने अपनी जान गंवा दी. घटना के दो दिन पहले ही केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भारत के उत्तर-पूर्वी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से चर्चा की थी और सीमा विवाद सुलझाने की बात कही थी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज