चीन या पाकिस्तान नहीं राफेल लड़ाकू विमानों को इस जीव से है सबसे ज्यादा खतरा

चीन या पाकिस्तान नहीं राफेल लड़ाकू विमानों को इस जीव से है सबसे ज्यादा खतरा
हरियाणा के मुख्य सचिव को खत लिखकर वायुसेना के एक अधिकारी ने पक्षियों को राफेल के लिए खतरा बताया है. (फाइल फोटो)

एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह (DG I&S Air Marshal Manavendra Singh) ने इसे लेकर हरियाणा (Haryana) के मुख्य सचिव को खत लिखा है. उन्होंने खत में लिखा है कि एयरबेस के आस-पास पक्षियों की बड़ी संख्या है. ये पक्षी एयरक्राफ्ट्स के लिए खतरनाक हैं, विशेष तौर पर राफेल के लिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 2, 2020, 7:35 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत में लड़ाकू विमान राफेल (Rafale) की पहली खेप (First Batch) आ चुकी है. हरियाणा के अंबाला एयरबेस (Ambala Airbase) पर इन विमानों को रिसीव करने खुद वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया (Rakesh Kumar Singh Bhadauria) गए थे. राफेल विमानों की बदौलत भारतीय वायुसेना की मारक क्षमता में वृद्धि की बात कही जा रही है. लेकिन इन सबके बीच भारतीय वायुसेना के एक अधिकारी ने खत लिखकर अंबाला के स्थानीय प्रशासन को आगाह किया है कि राफेल के लिए सबसे बड़ा खतरा पक्षी हैं.

बीते साल भी वायुसेना ने किया था ट्वीट
पिछले साल इंडियन एयरफोर्स के ट्विटर हैंडल से किए गए एक ट्वीट में एक दुर्घटना का जिक्र किया गया था. ट्वीट में बताया था कि कैसे जगुआर विमान के उड़ान भरते ही एक पक्षी टकरा गया था. हालांकि पायलट की सूझबूझ की वजह से बड़ा हादसा टल गया था.





हरियाणा के मुख्य सचिव को लिखा खत
अब एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह ने इसे लेकर हरियाणा के मुख्य सचिव को खत लिखा है. उन्होंने खत में लिखा है कि एयरबेस के आस-पास पक्षियों की बड़ी संख्या है. ये पक्षी एयरक्राफ्ट्स के लिए खतरनाक हैं, विशेष तौर पर राफेल के लिए.

एयरफोर्स स्टेशन से पक्षियों को दूर रखना होगा
एयरफील्ड से पक्षियों को दूर रखने के लिए उन्होंने लिखा है कि इलाके में कूड़ा हटाने को लेकर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए. पक्षियों की अधिक संख्या के लिए उन्होंने कूड़े को जिम्मेदार माना है. उन्होंने अपने खत में पक्षियों की समस्या के समाधान के लिए कई रास्ते भी सुझाए हैं.

भारत में आ चुकी है राफेल की पहली खेप
गौरतलब है कि भारत में राफेल विमानों की पहली खेप अंबाला एयरबेस पर ही पहुंची थी और इन विमानों को अभी यहीं रखा गया है. फ्रांसीसी कंपनी दसॉल्ट के साथ भारत का 36 विमानों का करार हुआ है. राफेल की अगली खेप अक्टूबर महीने में आने की बात कही जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज