लाइव टीवी

अब गर्लफ्रेंड से मिलने करतारपुर के रास्ते पाकिस्तान पहुंचा सिख युवक, मिलकर लिया ये फैसला

News18Hindi
Updated: December 12, 2019, 11:14 PM IST
अब गर्लफ्रेंड से मिलने करतारपुर के रास्ते पाकिस्तान पहुंचा सिख युवक, मिलकर लिया ये फैसला
करतारपुर गुरुद्वारे में साथ में भारतीय युवक और पाकिस्तानी लड़की (फोटो- शैलेंद्र वांगू, ट्विटर)

बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी नागरिक (Pakistan's Citizen) इस लड़की का नाम आसिया रफीक है. यह लड़की लाहौर (Lahore) के मोहल्ला करीम पार्क इलाके की रहने वाली है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 12, 2019, 11:14 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. एक भारतीय लड़की (Indian Girl) के अपने फेसबुक फ्रेंड (Facebook Friend) से मिलने करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) के रास्ते पाकिस्तान (Pakistan) जाने की घटना के बाद एक ऐसी ही नई घटना सामने आई है. इसमें एक भारतीय लड़का (Indian Boy) करतारपुर कॉरिडोर के जरिए पाकिस्तान में अपनी गर्लफ्रेंड (Girl Friend) से मिलने गया.

बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी नागरिक (Pakistan's Citizen) इस लड़की का नाम आसिया रफीक है. यह लड़की लाहौर (Lahore) के मोहल्ला करीम पार्क इलाके की रहने वाली है.

शादी करने के लिए वीजा लेकर पाकिस्तान जाएंगे जतंदर
मिली जानकारी में बताया गया है कि यह लड़की पंजाब यूनिवर्सिटी, लाहौर (Punjab University, Lahore) से एमए की पढ़ाई कर रही है. यह लड़की जिस सिख तीर्थयात्री (Sikh Pilgrim) से मिली, उसका नाम जतंदर सिंह बताया गया है. यह सिख युवक करतारपुर कॉरिडोर के जरिए दरबार साहिब, करतारपुर पहुंचा था.

यहां पर दोनों ने मुलाकात के बाद तय किया कि जतंदर सिंह पाकिस्तान का वीजा (Pakistan's Visa) लेकर पाकिस्तान जाएंगे और वहीं पर दोनों शादी करेंगे.

एक दूसरी महिला का प्रयोग कर पाकिस्तान में जाने वाली थी लड़की
इससे पहले हरियाणा की मंजीत कौर करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) के रास्ते पाकिस्तान अपने फेसबुक फ्रेंड (Facebook Friend) से शादी करने के लिए पहुंच गई थीं. लेकिन वे पाकिस्तान (Pakistan) के अंदर प्रवेश नहीं कर पाईं थीं. इससे पहले ही पाकिस्तानी सिक्योरिटी ने उन्हें पकड़ लिया था.उनसे मिलने आए गुजरांवाला के रहने वाले अवैस मुख्तार भी गुरुद्वारे के अहाते में एक महिला के साथ आए हुए थे. बताया जा रहा है कि यह महिला उसके एक मित्र की पत्नी थीं. वे पाकिस्तान की ओर से करतारपुर गुरुद्वारे के अहाते में आकर वहीं खड़े थे, जब करतारपुर कॉरिडोर के जरिए गुरुदासपुर की ओर से मंजीत कौर डेरा बाबा नानक (Dera Baba Nanak) की ओर से उधर गईं.

सूत्रों ने बताया था, "उनका प्लान था कि वे मंजीत कौर को अवैस के साथ आई महिला के एंट्री कार्ड पर पाकिस्तान में लेकर चले जाएंगे. लेकिन जब उन्होंने सिक्योरिटी के उस पार जाने का प्रयास किया था. सुरक्षाकर्मियों को शक हुआ और उन्होंने उन्हें रोक लिया था. लेकिन कौर ने भारत वापस जाने से मना कर दिया और अपने बॉयफ्रेंड (Boyfriend) के साथ गुजरावालां जाने की जिद पकड़ ली थी." सूत्रों के मुताबिक मंजीत को वापस भारत भेज दिया गया था.

यह भी पढ़ें: पासपोर्ट पर 'कमल निशान', विपक्ष ने पूछा सवाल तो विदेश मंत्रालय ने दिया ये जवाब

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 12, 2019, 11:14 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर