लाइव टीवी

पश्चिम बंगाल: TMC की जीत पर BJP प्रत्‍याशी ने कहा- NRC के डर से मिली हार

News18Hindi
Updated: November 28, 2019, 5:20 PM IST
पश्चिम बंगाल: TMC की जीत पर BJP प्रत्‍याशी ने कहा- NRC के डर से मिली हार
टीएमसी को बंगाल उपचुनाव में तीनों सीटों पर जीत मिली है.

टीएमसी (TMC) ने उपचुनाव (West Bengal BY-POLL) में तीनों सीटों पर जीत दर्ज की है. इसपर कलियागंज से बीजेपी (BJP) के प्रत्‍याशी ने अपनी हार का जिम्‍मेदार एनआरसी (NRC) को बताया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2019, 5:20 PM IST
  • Share this:
(सुजीत नाथ)

कोलकाता. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) का दबदबा अभी भी बरकरार है. टीएमसी (TMC) ने कलियागंज, खड़गपुर सदर और करीमपुर सीट (Kaliaganj, Kharagpur Sadar And Karimpur Seat) पर जीत दर्ज की है. टीएमसी के तपन देब सिंहा (Tapan Deb Singha) ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी बीजेपी के कमल चंद्र सरकार (Kamal Chandra Sarkar) को कलियागंज सीट से हराया. जबकि कांग्रेस और लेफ्ट के संयुक्‍त उम्‍मीदवार धीताश्री रॉय तीसरे स्‍थान पर रहे.

बीजेपी प्रत्‍याशी ने कहा- मेरी हार का कारण एनआरसी
चुनाव के नतीजे आने के बाद कमल चंद्र सरकार ने कहा, 'लोगों ने नेशनल रजिस्‍टर ऑफ सिटिजंस (NRC) से पैदा हुए डर के कारण बीजेपी के खिलाफ मतदान किया. मुझे यह नहीं कहना है कि राजवंशी समुदाय ने किसे वोट किया. लेकिन, यह साफ है कि अल्‍पसंख्‍यक समुदाय ने टीएमसी को एकजुट वोट दिया. मेरी हार का सबसे बड़ा कारण एनआरसी ही है. एनआरसी को लेकर लोगों में डर था.'

'हम NRC को समझाने में नाकाम रहे'
कमल चंद्र सरकार ने कहा, 'हम लोगों को यह समझाने में नाकाम रहे कि असम में लागू की गई और देश के अन्‍य राज्‍यों के लिए प्रस्‍तावित एनआरसी अलग है. हम यह भी नहीं समझा पाए कि एनआरसी का बीजेपी से कोई लेना-देना नहीं है. इसे केंद्र सरकार लागू करती है. लोगों को लगा कि बीजेपी एनआरसी लागू कर रही है और यह उनके खिलाफ है.'

लोगों ने ममता बनर्जी पर भरोसा जताया: TMC उम्‍मीदवार
Loading...

वहीं टीएमसी के तपन देब सिंहा ने कहा, 'लोगों को मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी पर भरोसा है. उपचुनाव में भी लोगों ने ममता बनर्जी का विश्‍वास जताया है. बूथ स्‍तर पर कड़ी मेहनत करने वालों को मैं दिल से धन्‍यवाद देता हूं. सभी लोगों ने अपने वरिष्‍ठों के निर्देशों के अनुसार कड़ी मेहनत की. मुझे खुशी है कि लोगों ने एक बार फिर हमारी पार्टी प्रमुख पर विश्‍वास जताया है. दीदी के विकास की बदौलत ही बीजेपी को उनकी सीट पर हार का सामना करना पड़ा.'

बंगाल के लोग नफरत की राजनीति पसंद नहीं करते: चटर्जी
टीएमसी के महासचिव पार्थ चटर्जी ने भी कलियागंज के चुनाव परिणाम पर खुशी जताते हुए कहा, 'उपचुनाव के रिजल्‍ट से यह पता चलता है कि जनता ने बीजेपी को खारिज कर दिया है. बंगाल के लोग नफरत की राजनीति पसंद नहीं करते.' बता दें कि कलियागंज विधानसभा सीट राजगंज लोकसभा सीट के अंतर्गत आती है. पिछले लोकसभा चुनाव में राजगंज सीट से बीजेपी के देबाश्री चौधरी ने जीत हासिल की थी. वहीं खड़गपुर विधानसभा सीट मेदिनीपुर लोकसभा सीट के अंतर्गत आती है. लोकसभा चुनाव में बंगाल बीजेपी अध्‍यक्ष दिलीप घोष ने मोदिनीपुर सीट से जीत दर्ज की थी.

बता दें कि कलियागंज और खड़गपुर पहले कांग्रेस का गढ हुआ करता था. बाद में बीजेपी ने इस क्षेत्र में अपनी पैठ बना ली. हालांकि कलियागंज और खड़गपुर में बीजेपी की हार को बड़ा झटका बताया जा रहा है. हांलाकि बीजेपी नेताओं का दावा है कि एनसीआर की वजह से यहां का पासा पलटा.

ये भी पढ़ें: ममता बनर्जी ने कहा - विधानसभा उपचुनाव में TMC की जीत NRC के खिलाफ जनादेश

ये भी पढ़ें: BY-POLL रिजल्ट: ममता का दबदबा कायम, तीनों सीट पर TMC का कब्जा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2019, 5:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...