Article 370: अजित डोभाल आज कर सकते हैं जम्मू-कश्मीर का दौरा, सेना को अलर्ट पर रखा गया, जानें 10 बातें

गृह मंत्री अमित शाह ने घोषणा की कि सरकार जम्मू और कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 और 35A को रद करना चाहती है. इस घोषणा के कारण संसद में भारी हंगामा हुआ.

News18Hindi
Updated: August 5, 2019, 6:29 PM IST
Article 370: अजित डोभाल आज कर सकते हैं जम्मू-कश्मीर का दौरा, सेना को अलर्ट पर रखा गया, जानें 10 बातें
गृह मंत्री अमित शाह ने घोषणा की कि सरकार जम्मू और कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 और 35A को रद करना चाहती है. इस घोषणा के कारण संसद में भारी हंगामा हुआ.
News18Hindi
Updated: August 5, 2019, 6:29 PM IST
मोदी सरकार ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर को लेकर ऐतिहासिक ऐलान किया. सरकार ने जम्मू-कश्मीर को स्पेशल स्टेटस देने वाले संविधान के आर्टिकल 370 और 35A को खत्म कर दिया है. जम्मू-कश्मीर को अब केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया है. लद्दाख को भी कश्मीर से अलग कर केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दिया गया है. सोमवार को राज्यसभा में फैसले की घोषणा करते हुए, गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि इस फैसले को लागू करने में कोई देरी नहीं होनी चाहिए. हालांकि विपक्ष ने इस कदम को संविधान की हत्या करार दिया. जानें इस मामले की अब तक की दस बड़ी बातें.

1) गृह मंत्री अमित शाह ने घोषणा की कि सरकार जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 और 35A को रद करना चाहती है. इस घोषणा के कारण संसद में भारी हंगामा हुआ.

2) कांग्रेस ने भाजपा पर संविधान की हत्या का आरोप लगाया. हालांकि बसपा, बीजेडी और शिवसेना ने सरकार को अपना समर्थन दिया.

3) सरकार के फैसले के मद्देनजर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल भारी सैन्य उपस्थिति के बीच आज जम्मू-कश्मीर का दौरा कर सकते हैं.

4) करीब 8,000 अर्धसैनिक बलों को उत्तर प्रदेश, ओडिशा, असम और देश के अन्य हिस्सों से एयरलिफ्ट करके कश्मीर घाटी में लाया जा रहा है.

5) भारत सरकार के 370 और अन्य फैसलों के बाद भारतीय सेना और भारतीय वायुसेना को हाई अलर्ट पर रखा गया है.

6) इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह और एनएसए अजित डोभाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनके आवास पर मुलाकात की. गृह मंत्री ने रविवार को भी अजित डोभाल और केंद्रीय गृह सचिव राजीव गौबा समेत कई शीर्ष खुफिया अधिकारियों से मुलाकात की.
Loading...



7) कश्मीर में आज सुबह 6 बजे से धारा 144 लागू कर दी गई. इसके अंतर्गत सार्वजनिक जगहों पर 4 से ज्यादा लोगों के एकजुट होने की मनाही होती है. जम्मू-कश्मीर सरकार के आदेश के मुताबिक इस दौरान किसी भी तरह की पब्लिक मीटिंग और रैली करने पर पाबंदी लगा दी गई है. इस ऑर्डर में कर्फ्यू की खबरों का खंडन करते हुए कहा गया कि ये ध्यान रहे कि जैसा कि मीडिया की रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है यहां कोई कर्फ्यू नहीं लगाया जा रहा है.

8) घाटी के कई इलाकों में मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई. कई जगहों पर लैंडलाइन फोन के इस्तेमाल पर भी रोक लगा दी गई.

9) नज़रबंद होने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट किया, 'दुनिया देख रही है कि किस तरह जम्मू-कश्मीर की आवाज़ों को दबाया जा रहा है.' वहीं राज्य में अनिश्चितता की स्थिति पर उमर अब्दुल्ला ने कहा, 'मुझे नहीं पता कि मुझे क्यों नज़रबंद किया गया है.'

10) कश्मीर की क्षेत्रीय पार्टियों के नेताओं ने रविवार को श्रीनगर में अपने आवास पर सर्वदलीय बैठक आयोजित की. बैठक को संबोधित करते हुए अब्दुल्ला ने लोगों से शांति बनाए रखने का अनुरोध किया और कहा कि राज्य के सभी राजनीतिक दलों के नेता उनके कश्मीर के विशेष दर्जे को सुरक्षित रखने के लिए संघर्ष में एकजुट थे.

ये भी पढ़ें-
किसने किया था देश में दो विधान और दो निशान का विरोध?


Article 370: अमित शाह ने एक तीर से साधे कई निशाने, अब ये होंगे बदलाव

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 5, 2019, 5:14 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...