NSA अजीत डोभाल ने अमेरिकी विदेश मंत्री पॉम्पियो और रक्षा प्रमुख एस्पर से की मुलाकात, भारत-चीन सीमा विवाद पर भी हुई बात

मुलाकात के दौरान हाथ मिलाने के बजाए कोहनियां टकराते नजर आए तीनों आधिकारी. (फोटो- ANI)
मुलाकात के दौरान हाथ मिलाने के बजाए कोहनियां टकराते नजर आए तीनों आधिकारी. (फोटो- ANI)

मंगलवार को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो और रक्षा प्रमुख मार्क एस्पर की बैठक हुई. इस बैठक में चीन से जुड़े मुद्दों पर चर्चा हुई. इन सभी आधिकारियों की मुलाकात का अंदाज चर्चा का विषय बना.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 28, 2020, 5:15 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (National Security Adviser Ajit Doval), अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो (Mike Pompeo) और रक्षा प्रमुख मार्क एस्पर (Mark Esper) के बीच दोनों देशों के बीच रणनीतिक चुनौतियों को लेकर चर्चा हुई. मामले के जानकारों ने बताया कि दोनों पक्षों के बीच साझा मुद्दों को आगे ले जाने और संभावनाएं तैयार करने समेत कई विषयों पर बातचीत हुई. सोमवार को दोनों विदेशी मेहमान भारत में 2+2 वार्ता के लिए पहुंचे हैं. इससे पहले दोनों की विदेश मंत्री एस जयशंकार और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात हो चुकी है. इस बैठक में बेसिक एक्सचेंज एड कॉपरेशन एग्रीमेंट (Basic Exchange and Cooperation Agreement(BECA)) पर साइन किए गए.

चार देशों के टूर पर हैं अमेरिकी अधिकारी
2+2 वार्ता के लिए भारत पहुंचे पॉम्पियों और एस्पर का यह पहला स्टॉप है. इस टूर के तहत दोनों ट्रंप प्रशासन का चीन विरोधी संदेश पहुंचा रहे हैं. इसके बाद दोनों श्रीलंका, मालदीव और इंडोनेशिया का रुख करेंगे. अमेरिकी रिपोर्ट्स के मुताबिक, पूरी मुलाकातों के बाद उम्मीद की जा रही है कि विदेश मंत्री पॉम्पियों चीनी दखल को पीछे धकेलने के लिए इऩ देशों का समर्थन जुटा लेंगे.

भारतीय अधिकारियों ने कहा कि इस चर्चा के दौरान दोनों पक्षों ने 175 दिनों से चल रहे चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (People’s Liberation Army) के साथ भारतीय सेना के टकराव को लेकर भी चर्चा की. उन्होंने बताया कि तीनों अधिकारियों ने दोनों देशों के बीच संबंधों को और गहरा करने के लिए गहन चर्चा की. ताकि वैश्विक स्तर पर सुरक्षित, स्थिर माहौल तैयार हो सके.
अलग अंदाज में किया स्वागत


आमतौर पर हाथ मिलाकर मिलने वाले अधिकारी इस बार कोरोना वायरस के कारण कोहनिया टकराते हुए नजर आए. इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान से पालन किया गया. सभी अधिकारी मास्क पहने हुए थे, जिसमें से सबसे खास अमेरिकी विदेश मंत्री का अमेरिकी झंडे के प्रिंट वाला मास्क रहा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज