बिशप की गिरफ्तारी के प्रदर्शन में शामिल होने पर चर्च ड्यूटी से हटाया, नन का आरोप

केरम में नन बलात्कारी बिशप फ्रैंको मुलल्कल की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन में शामिल नन को चर्च की ड्यूटी से अलग कर दिया गया है.

भाषा
Updated: September 23, 2018, 9:27 PM IST
बिशप की गिरफ्तारी के प्रदर्शन में शामिल होने पर चर्च ड्यूटी से हटाया, नन का आरोप
Nun Rape accused Bishop Franco Mulkkal ( file photo)
भाषा
Updated: September 23, 2018, 9:27 PM IST
सायरो मालाबार कैथोलिक चर्च की एक नन ने उसे चर्च की ड्यूटी से हटाने का आरोप लगाया है. नन का कहना है कि बलात्कार के आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल की गिरफ्तारी की मांग को लेकर कोच्चि में ननों के प्रदर्शन में शामिल हुई थी. इस लिए चर्च ने उसको ड्यूटी से अगल कर दिया है.

कोच्चि से रविवार की सुबह लौटी नन ने दावा किया कि उसे मदर सुपीरियर ने मौखिक रूप से सूचित किया है कि वह प्रार्थना कराने और चर्च से संबंधित अन्य ड्यूटी से दूर रहेंगी. नन ने मीडिया को बताया है कि उसे कोई लिखित आदेश नहीं दिये गये हैं.

यह भी पढ़ें: नन से रेप: फ्रैंको मुलक्कल को वैटिकन ने बिशप पद से हटाया

मदर सुपीरियर ने चर्च की किसी भी गतिविधि में शामिल नहीं होने के लिए उसे केवल मौखिक रूप से ही सूचित किया है. हालांकि इसको लेकर चर्च की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी है. गौरतलब है कि, पांच ननों ने कोच्चि में केरल उच्च न्यायालय के निकट 13 दिनों तक प्रदर्शन किया था.

यह भी पढ़ें: नन रेप केस: अग्रिम जमानत के लिए उच्च न्यायालय पहुंचे बिशप मुलक्कल

नन का प्रदर्शन बलात्कार आरोपी बिशप की गिरफ्तारी की मांग की मांग को लेकर किया गया था. नन ने कहा,‘‘मैंने न तो कुछ गलत किया है और न ही चर्च के खिलाफ कुछ किया है. इस निर्णय के लिए कोई कारण नहीं दिया गया है.’’

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 23, 2018, 9:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...