लाइव टीवी

नन रेप केसः आरोपी बिशप की जमानत याचिका पर सुनवाई 25 सितंबर तक टली

भाषा
Updated: September 18, 2018, 3:06 PM IST
नन रेप केसः आरोपी बिशप की जमानत याचिका पर सुनवाई 25 सितंबर तक टली
नन रेप केस: अग्रिम जमानत के लिए उच्च न्यायालय पहुंचे बिशप मुलक्कल

केरल पुलिस के विशेष जांच दल के समक्ष पेश होने से एक दिन पहले इस गैर जमानती अपराध में गिरफ्तारी की आशंका से बिशप ने अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी.

  • भाषा
  • Last Updated: September 18, 2018, 3:06 PM IST
  • Share this:
नन से बलात्कार के आरोपी जालंधर के 54 वर्षीय बिशप फ्रेंको मुलक्कल ने मंगलवार को केरल उच्च न्यायालय में अग्रिम जमानत याचिका दायर की और दावा किया कि उनके खिलाफ आरोप एक गढ़ी हुई कहानी है जिसका उद्देश्य बदला लेना है. आरोपी बिशप ने पोप को लिखा पत्र, 'कुछ वक्त के लिए पद छोड़ना चाहता हूं' कोर्ट ने मामले में सुनवाई करते हुए बिशप फ्रैंको मुलक्कल की अग्रिम ज़मानत को 25 सितंबर तक के लिए आगे बढ़ा दिया है.

इस मामले में बुधवार को केरल पुलिस के विशेष जांच दल के समक्ष पेश होने से एक दिन पहले इस गैर जमानती अपराध में गिरफ्तारी की आशंका से बिशप ने अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी.

बिशप ने दावा किया कि आरोप लगाने वाली नन के खिलाफ उन्हें कई शिकायतें मिली थीं जिन पर उन्होंने कार्रवाई की थी. इसी का बदला लेने के लिए उनके खिलाफ आरोप लगाए गए और इसके लिए उक्त कहानी गढ़ी गई. आरोप लगाने वाली नन जालंधर डायोसिस के तहत आने वाले धर्म संघ में सेवारत हैं.

‘चुप हो जाओ पीसी जॉर्ज’ केरल के मंत्री को डक्ट टेप क्यों भेज रहे हैं लोग?



निर्दोष होने का दावा करते हुए बिशप ने यह भी कहा कि कि नन की शिकायत कुछ और नहीं बल्कि काल्पनिक कहानी है. नन ने आरोप लगाया है कि वरिष्ठ कैथोलिक बिशप ने वर्ष 2014 से 2016 के बीच उनका कई बार यौन उत्पीड़न किया.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 18, 2018, 1:57 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर