केरल: रेप आरोपी बिशप का विरोध करने वाली 4 नन को कॉन्वेंट से निकाला

बता दें कि नन ने 54 साल के बिशप पर 2014 से 2016 के बीच रेप और अप्राकृतिक सेक्स करने का आरोप लगाया था. तीन दिनों की पूछताछ के बाद मुलक्कल को पिछले साल 21 सितंबर को पुलिस ने गिरफ्तार किया था.

News18Hindi
Updated: January 16, 2019, 6:12 PM IST
केरल: रेप आरोपी बिशप का विरोध करने वाली 4 नन को कॉन्वेंट से निकाला
मुलक्कल की गिरफ्तारी को लेकर नन ने विरोध प्रदर्शन किया था
News18Hindi
Updated: January 16, 2019, 6:12 PM IST
केरल के बहुचर्चित नन रेप मामले में आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल का विरोध करने वाली पांच में चार नन को हटा दिया गया है. इन सबको कोट्टम के कॉन्वेंट से बाहर जाने के लिए कह दिया गया है. विरोध करने वाली सिस्टर अनुपमा, सिस्टर एनसिटा, सिस्टर एल्फी और सिस्टर जॉसफाइन को तुरंत वापस पुराने कॉन्वेंट में जाने को कह दिया गया है.

इनमे से एक नन ने बिशप फ्रैंको मुलक्कल के खिलाफ रेप करने की शिकायत दर्ज की थी. बाद में इन सभी नन ने मुलक्कल की गिरफ्तारी को लेकर विरोध प्रदर्शन किया था. चारों नन को ट्रांसफर लेटर थमाते हुए अलग-अलग कॉन्वेंट में जाने को कहा गया है.

हालांकि, ये ट्रांसफर ऑर्डर 2017 और मार्च 2018 की है. उस वक्त नन ने ये कहते हुए यहां से जाने से मना कर दिया था कि वो अपने साथी को अकेला नहीं छोड़ सकते. साथ ही कहा था कि ये सब बिशप फ्रैंको मुलक्कल को बचाने की कोशिश है.

बता दें कि नन ने 54 साल के बिशप पर 2014 से 2016 के बीच रेप और अप्राकृतिक सेक्स करने का आरोप लगाया था. जून में कोट्टयाम पुलिस को दी गई अपनी शिकायत में नन ने आरोप लगाया था कि बिशप ने मई 2014 में कुराविलंगाड गेस्ट हाउस में उनका रेप किया और बाद में भी यौन शोषण करते रहे.

तीन दिनों की पूछताछ के बाद मुलक्कल को पिछले साल 21 सितंबर को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. बाद में 24 सितंबर को उन्हें दो हफ्ते की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था. बाद में हाईकोर्ट ने आरोपी फ्रैंको मुलक्कल को सशर्त जमानत दे दी थी.

ये भी पढ़ें: कर्नाटक में गठबंधन की सरकार गिरने पर BJP पेश करेगी दावा: सदानंद गौड़ा

कंप्यूटर यूजर्स के लिए बुरी खबर, माइक्रोसॉफ्ट ने Windows 7 को लेकर लिया बड़ा फैसला
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...