फेसबुक पर भड़काऊ पोस्ट, युवक को 11 जूतों और 21 हजार जुर्माने की सजा

ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: July 13, 2017, 8:09 AM IST
फेसबुक पर भड़काऊ पोस्ट, युवक को 11 जूतों और 21 हजार जुर्माने की सजा
मेवात के नगीना में हुई महापंचायत में उपस्थित लोग
ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: July 13, 2017, 8:09 AM IST
राष्‍ट्रीय राजधानी से करीब सौ किलोमीटर दूर मेवात के कस्बा नगीना में कई गांवों की महापंचायत ने एक युवक को 11 जूते मारे, उस पर 21 हजार रुपये का जुर्माना लगाया और तीन महीने के लिए गांव निकाला का फरमान सुना दिया.

युवक पर आरोप था कि उसने एक धर्म विशेष के खिलाफ फेसबुक पर आपत्‍तिजनक पोस्ट शेयर किए. इसीलिए  दो धर्मों के बीच तनाव को रोकने के लिए पंचायत ने यह सख्‍त कदम उठाया.

पिछले दिनों इस युवक के फेसबुक पोस्ट के बाद कस्बे में तनाव का माहौल पैदा हो गया. इसके बाद हालात सुधारने के लिए कस्बा के सरपंच और प्रमुख लोगों ने सर्वधर्म समाज की बैठक बुलाई.

नगीना की चौधरी चौपाल पर बुधवार दोपहर बाद महापंचायत की बैठक हुई. हाजी नासिर हुसैन ने आरोपों की फेहरिस्त को आरोपी के सामने पढ़कर सुनाया.

facebook,mewat, haryana, islam, hindu, फेसबुक, मेवात, हरियाणा, इस्लाम, हिंदू मेवात के नगीना में हुई महापंचायत में उपस्थित लोग

सबकुछ सुनने के बाद अपना गुनाह कबुलते हुए 25 वर्षीय युवक ने माफी मांग ली. साथ ही कहा कि जो सजा महापंचायत तय करेगी, वह उसे भुगतने के लिए तैयार है.

महापंचायत में 36 बिरादरी के लोगों ने कहा कि युवक के फेसबुक पोस्ट से मेवात के भाईचारे को गहरा झटका लगा है. सभी समाजों से जुड़े लोगों की बात सुनने के बाद 21 सदस्यीय सर्वधर्म कमेटी के अध्यक्ष सुभाष गुप्ता ने फैसला सुनाया.

इसके बाद महापंचायत में युवक को एक बुजुर्ग ने 11 जूते लगाए. वहीं 21 हजार रुपये आरोपी के परिवार ने जमा किए, जो मंदिर के लिए दान कर दिए गए. वहीं शाम तक युवक को कस्‍बा छोड़ने की हिदायत दी गई.
facebook,mewat, haryana, islam, hindu, फेसबुक, मेवात, हरियाणा, इस्लाम, हिंदू मेवात के नगीना में हुई महापंचायत में उपस्थित लोग

नगीना के सरपंच नसीम खान ने सभी बिरादरियों से कस्बे में शांति बनाए रखने की अपील की. सभी ने हाथ उठाकर इसका समर्थन किया. इस अवसर पर असमत खान, नसीम अहमद, महावीर जैन, जाकिर हुसैन, शिवकुमार बंटी, महावीर सैनी, टिल्लू प्रजापति, रघुवीर राघव, उमर मोहम्मद, प्यारे लाल, मुन्नत नम्बरदार, मानक सैनी, मानसिंह गंगाराम सैनी और प्रभुदयाल पंच आदि मौजूद रहे.
First published: July 13, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर