Odisha Bypolls: चुनाव मैदान में दो-दो हाथ कर रहे हैं 80 साल के नाई, प्रचार के लिए आए बड़े आर्टिस्ट्स

ओडिशा (Odisha Elections 2020) में  बालासोर विधानसभा सीट पर उप चुनाव के लिए मतदान कराए गए. बालासोर विधानसभा के विधायक के निधन के चलते यह सीट खाली हो गई थी.
ओडिशा (Odisha Elections 2020) में बालासोर विधानसभा सीट पर उप चुनाव के लिए मतदान कराए गए. बालासोर विधानसभा के विधायक के निधन के चलते यह सीट खाली हो गई थी.

ओडिशा (Odisha Elections 2020) में बालासोर विधानसभा सीट पर उप चुनाव के लिए मतदान कराए गए. बालासोर विधानसभा के विधायक के निधन के चलते यह सीट खाली हो गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 3, 2020, 12:15 PM IST
  • Share this:
बालासोर. ओडिशा (Odisha Elections 2020) में मंगलवार को दो विधानसभा सीटों पर उप चुनाव के लिए मतदान कराए गए. तीर्तोल और बालासोर विधानसभा के विधायकों के निधन के चलते यह सीटें खाली हो गई थीं. इस उपचुनाव में बालासोर में एक 80 वर्षीय नाई चर्चा का विषय बना हुआ है. राज्य के तटीय क्षेत्र के निवासी बेनू मौसा के तौर पर पहचाने जाने वाले बेनूधर बारिक (Benu Mausa) इस बार चुनाव में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. उनके पास कोई कायदे का पार्लर या सैलून नहीं है. वह पेड़ के नीचे ही लोगों के बाल काटते हैं. जब बालासोर विधानसभा के लिए उन्होंने नामांकन किया तो बहुतों को लगा कि वह अपना नाम वापस ले लेंगे लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

चुनाव के लिए केतली चुनाव चिह्न पाने के बाद उनकी तस्वीर के साथ एक पोस्टर छपा. अब वह अपने कुछ दोस्तों के साथ चुनाव में प्रचार कर रहे हैं. उन्होंने देखा कि उनके गांव के लोग अभियान में शामिल होने और पैसे दान करने लगे. पिछले सप्ताह चुनाव प्रचार अपने चरम पर पहुंच गया, तो कुछ लोकप्रिय थिएटर आर्टिस्ट्स ने भी उनके लिए प्रचार किया.

कई बड़े थिएटर आर्टिस्ट्स ने किया प्रचार
उम्मीदवार के लिए प्रचार करने वालों में से एक रानी प्रियदर्शिनी साहू ने कहा कि बेनू मौसा ने आज के सामाजिक बदलाव देखने के बाद चुनाव लड़ने का फैसला किया. वह 80 साल के भले हैं लेकिन वह जुनूनी हैं और राजनीतिक मुद्दों को लेकर भी जागरूक हैं. उन जैसे लोगों को ही चुनाव जीत कर लोगों का प्रतिनिधित्व करना चाहिए.'
मशहूर ओडिया थिएटर अभिनेत्री रानी पांडा और अभिनेता दामा पांडा भी बारिक के प्रचार के लिए बालासोर आए थे. रानी पांडा दो बार आईं और बारिक के चुनावी कैंपेन में शामिल हुईं. बेनू मौसा के पक्ष में कलाकारों के अभियान ने बीजेपी, जदयू और कांग्रेस के प्रत्याशियों की चिंता बढ़ा दी है.



बारिक ने कहा कि मेरे पास बहुत पैसा नहीं है. मैं इन चुनावों को लड़ने का अवसर पाकर खुश हूं.अगर मैं जीतता हूं, तो मैं लोगों की समस्याओं को हल करने के लिए कड़ी मेहनत करूंगा. मुझे उम्मीद नहीं थी कि राज्य भर के कई जाने-माने लोग यहां मेरे लिए प्रचार करने आएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज