Home /News /nation /

ओडिशा: राउरकेला स्टील प्लांट में गैस रिसाव, कम से कम 4 लोगों की मौत, कइयों की तबीयत बिगड़ी

ओडिशा: राउरकेला स्टील प्लांट में गैस रिसाव, कम से कम 4 लोगों की मौत, कइयों की तबीयत बिगड़ी

 राउरकेला स्टील प्लांट भारत में सार्वजनिक क्षेत्र का पहला एकीकृत इस्पात कारखाना है.

राउरकेला स्टील प्लांट भारत में सार्वजनिक क्षेत्र का पहला एकीकृत इस्पात कारखाना है.

गैस का रिसाव राउरकेला स्टील प्लांट (Rourkela Steel Plant) के कोल केमिकल डिपार्टमेंट में बुधवार सुबह करीब 9:45 बजे हुआ. प्लांट का काम तब शुरू ही हुआ था.

    भुवनेश्वर. ओडिशा के राउरकेला स्टील प्लांट (Rourkela Steel Plant) में गैस लीक (Gas Leak) का मामला सामने आया है. हादसे में कम से कम 4 कर्मचारियों की मौत की खबर है, जबकि कई लोगों की तबीयत बिगड़ी है. सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इनमें से 5 की हालत गंभीर बताई जा रही है.

    प्राप्त जानकारी के मुताबिक, गैस का रिसाव राउरकेला स्टील प्लांट के कोल केमिकल डिपार्टमेंट में बुधवार सुबह करीब 9:45 बजे हुआ. प्लांट का काम तब शुरू ही हुआ था.

    देश में कब-कब हुए अमोनिया रिसाव के बड़े हादसे और कितने गंभीर?

    कोल केमिकल डिपार्टमेंट में कुछ कर्मचारी काम कर रहे थे, तभी गैस निकलने लगी. इससे कर्मचारियों को सांस लेने में मुश्किल आने लगी और कुछ बेहोश हो गए. जिसके बाद आनन-फानन में सभी को अस्पताल पहुंचाया गया. अभी तक 4 कर्मचारियों की मौत की पुष्टि हुई है. गैस रिसाव के कारणों का पता लगाया जा रहा है.

    बता दें कि राउरकेला स्टील प्लांट भारत में सार्वजनिक क्षेत्र का पहला एकीकृत इस्पात कारखाना है. 10 लाख टन स्थापित क्षमता का यह कारखाना जर्मनी के सहयोग से स्थापित किया गया था. बाद में इसकी क्षमता बढ़ाकर 19 लाख टन कर दी गई.

    1990 के वर्षों में इस प्लांट का आधुनिकीकरण किया गया और आधुनिक सुविधाओं के साथ इसमें कई नई यूनिटें जोड़ी गईं. अधिकतर पुरानी यूनिटों का भी नवीकरण किया गया. इसमें कारखाने के उत्पादों की क्वालिटी में सुधार, उत्पादन लागत में कमी, पर्यावरण प्रदूषण रहित बनाने में मदद मिली है.

    आरएसपी भारत में इस्पात निर्माण के लिए एलडी टेक्नोलॉजी का प्रयोग करने वाला पहला कारखाना था. यह सेल का ऐसा पहला और एकमात्र इस्पात कारखाना है जहां शत-प्रतिशत स्लैब अधिक गुणवत्ता और कम लागत वाले कंटीनुअस कास्टिंग मार्ग से तैयार किए जाते हैं.

    आरएसपी में इस समय 20 लाख टन तप्त धातु, 19 लाख टन कच्चा इस्पात और 16 लाख 70 हजार टन विक्रेय इस्पात तैयार करने की क्षमता है. यह बिजली क्षेत्र के लिए सिलिकन इस्पात, तेल और गैस क्षेत्र के लिए उच्च क्वालिटी के पाइप, पैकेजिंग उद्योग के लिए टीन की प्लेटें तैयार करने वाला सेल का एकमात्र इस्पात कारखाना है. (PTI इनपुट के साथ)undefined

    Tags: Gas leak, Odisha

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर