'डर' की वजह से अस्पताल के कर्मचारियों ने 12 घंटे तक नहीं छुआ HIV+ मरीज का शव, जांच के आदेश

'डर' की वजह से अस्पताल के कर्मचारियों ने 12 घंटे तक नहीं छुआ HIV+ मरीज का शव, जांच के आदेश
अस्पताल के कमर्चारियों ने एक शव के साथ गलत व्यवहार किया.

ओडिशा (ODISHA) के बुर्ला (BURLA) स्थित VIMSAR अस्पताल से शर्मसार करने वाला सामने आया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 5, 2019, 7:20 AM IST
  • Share this:
बुर्ला. ओडिशा (Odisha) में एचआईवी पीड़ित शख्स की मौत के बाद उसके शव से बेअदबी का मामला सामने आया है. यहां बुर्ला स्थित वीर सुरेन्द्र साईं आयुर्विज्ञान एवं अनुसंधान संस्थान (VIMSAR) में एक एचआईवी पॉजिटिव (HIV+) मरीज की मौत के बाद उसके शरीर को 12 घंटे के लिए छोड़ दिया गया. अस्पताल के कर्मचारी कथित तौर पर शरीर को छूने से संक्रमण से डर रहे थे.

VIMSAR की अधीक्षक जयश्री डोरा ने सोमवार को कहा 'मरीज की मौत के बाद, हमने पुलिस को सूचित किया क्योंकि वह बेसहारा था. पुलिस को शव को अपने कब्जे में लेना चाहिए था और इसे दावा करने के लिए अपने किसी भी रिश्तेदार के लिए 72 घंटे तक हिरासत में रखा था. हमने इस मामले की पूछताछ के लिए आज एक बैठक भी बुलाई.'

समाचार एजेंसी ANI के अनुसार डोरा के मुताबिक, मरीज गंभीर हालत में अस्पताल आया था और उसे प्रारंभिक उपचार दिया गया था लेकिन रविवार को उसकी मौत हो गई.





कहा कि 'हम किसी भी तरह की हुई लापरवाही के बारे में पूछताछ कर रहे हैं. हम इस मामले की जांच भी कर रहे हैं कि कितने देर तक उसके शव को बेड पर ही रखा गया और उसे शिफ्ट नहीं किया गया. लेकिन उसी समय यह पुलिस की जिम्मेदारी थी ना कि अस्पताल के अधिकारियों की नहीं कि बेसहारा मरीज के रिश्तेदार की तलाश करे.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading