ओडिशा ने शराब पर लगाई 50% की स्पेशल कोविड फीस, होम डिलीवरी की छूट दी

राज्य में अल्कोहल की होम डिलीवरी के लिए भी छूट दे दी गई है (सांकेतिक फोटो)
राज्य में अल्कोहल की होम डिलीवरी के लिए भी छूट दे दी गई है (सांकेतिक फोटो)

राज्य ने कहा है कि वह MRP के ऊपर लगाई गई 'स्पेशल कोविड फीस' (Special Covid Fee) से आने वाले राजस्व का प्रयोग इलाज और स्वास्थ्य सेवाओं (Health Service) के लिए करेगा.

  • Share this:
भुवनेश्वर. ओडिशा सरकार (Odisha Government) ने शनिवार को शराब की MRP के ऊपर 50% की स्पेशल कोविड फीस (Special Covid Fee) लगाने का साथ ही राज्य में अल्कोहल की होम डिलीवरी (Home Delivery) के लिए भी अनुमति दे दी है.

सरकार ने ओडिशा एक्साइज रूल्स, 2017 (Odisha Excise Rules, 2017) के तहत आने वाले पूर्व के नियमों में बदलाव करते हुए शराब की होम डिलीवरी (Home Delivery) की अनुमति दे दी. वर्तमान में मौजूद शराब की ऐसी दुकानें जो कंटेनमेंट इलाके में नहीं हैं और न ही शॉपिंग मॉल (Shopping Mall) में हैं, वे शराब की होम डिलीवरी कर सकती हैं.

विशेष कोविड शुल्क का इस्तेमाल कोरोना और अन्य संबंधित बीमारियों के इलाज में किया जायेगा
राज्य के आबकारी विभाग ने एक बयान में कहा, "सरकार ने प्रासंगिक नियमों में संशोधन करके एक विशेष COVID शुल्क लगाया है और पिछले साल (2019-20) तक प्रचलित सभी प्रकार की विदेशी शराब और बीयर के MRP में 50% की वृद्धि की है."
यह कहा गया है कि अतिरिक्त राजस्व COVID-19 रोगियों और अन्य संबंधित बीमारियों के उपचार में राज्य सरकारों की ओर से किए जा रहे खर्चों को पूरा करने के लिये प्रयोग किया जाएगा.



खुदरा शराब लाइसेंसधारियों को ऑर्डर के लिए दुकान के बाहर प्रमुखता से प्रदर्शित करना होगा
सरकार ने कहा, "शराब की होम डिलीवरी खुदरा विक्रेताओं से सीधे और बड़े फूड एग्रीगेटर्स, मानक टेक्नोलॉजी प्लेटफार्मों और रिटेल एग्रीगेटर्स के रूप में कार्य करने वाले वितरण सेवा प्रदाताओं के जरिये की जा सकती है."

सरकार के संशोधित नियमों के अनुसार खुदरा शराब लाइसेंसधारियों को ऑर्डर पाने के लिए और डिजिटल भुगतान (Digital Payment) की सुविधा के लिए अपनी दुकानों, फोन और व्हॉट्सऐप नंबर, ई-मेल और UPI विवरण को दुकान के बाहर प्रमुखता से प्रदर्शित करने की जरूरत होगी.

यह भी पढ़ें: कोरोना से पहले घर बुक कराने वालों के​ लिए खड़ी हुई समस्या, जानिए अब क्या करें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज