मीटिंग में लेट आए दो रेवेन्यू इंस्पेक्टर तो अधिकारी ने कराई उठक-बैठक

बैठक सुबह साढ़े नौ बजे होने वाली थी. रीघागड़ा और गुप्ती राजस्व सर्किल के ये दोनों रेवेन्यू इंस्पेक्टर बैठक में 15 मिनट की देरी से पहुंचे थे.

भाषा
Updated: May 17, 2018, 3:54 PM IST
मीटिंग में लेट आए दो रेवेन्यू इंस्पेक्टर तो अधिकारी ने कराई उठक-बैठक
प्रतीकात्मक चित्र
भाषा
Updated: May 17, 2018, 3:54 PM IST
ओडिशा के केंद्रपाड़ा जिले में एक वरिष्ठ अधिकारी ने राजनगर में एक बैठक में दो रेवेन्यू इंस्पेक्टर के देरी से पहुंचने पर उन्हें सजा के तौर पर कथित रूप से उठक-बैठक करने के लिये मजबूर किया. पीड़ितों ने गुरुवार को इस संबंध में जिला कलेक्टर को लिखित में शिकायत दी और आरोप लगाया कि अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (एडीएम) बसंत कुमार राउत ने मंगलवार को तहसील दफ्तर की बैठक के दौरान उन्हें उठक - बैठक के लिये मजबूर किया.

बैठक सुबह साढ़े नौ बजे होने वाली थी. रीघागड़ा और गुप्ती राजस्व सर्किल के ये दोनों रेवेन्यू इंस्पेक्टर बैठक में 15 मिनट की देरी से पहुंचे थे. वरिष्ठ अधिकारी ने पहले तो उन्हें इसके लिये झिड़की लगाई और फिर अन्य सहकर्मियों के सामने उठक-बैठक करने को कहा.

केंद्रपाड़ा के कलेक्टर रघु जी ने कहा कहा , ‘‘ जांच के बाद घटना सही पाई गई. एडीएम का इस तरह का बर्ताव अनुचित है. उनसे राजस्व निरीक्षकों के प्रतिनिधिमंडल से बिना शर्त माफी मांगने के लिये कहा गया है. ’’ राजनगर तहसीलदर निहार रंजन मलिक ने बताया कि राजस्व निरीक्षकों को एडीएम के निर्देश पर उठक - बैठक के लिये कहा गया. उन्हें इसलिए सजा दी गई क्योंकि वे बैठक में करीब 15 मिनट की देरी से पहुंचे.

एडीएम बसंत कुमार राउत से संपर्क नहीं हो सका क्योंकि उनका फोन बंद आ रहा है. अखिल ओडिशा राजस्व निरीक्षक संघ के पदाधिकारी दुखीश्याम पांडा ने कहा कि यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. गुप्ती के रेवेन्यू इंस्पेक्टर करुणाकर मलिक ने कहा , ‘‘ यह बहुत अमानवीय अनुभव था. मैं अब भी सदमे में हूं. ’’
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Nation News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर