Home /News /nation /

Omicron: ओमिक्रॉन से अमेरिका में हाहाकार! वैक्सीन के अलावा दवा भी बेअसर, एक्सपर्ट ने दी चेतावनी

Omicron: ओमिक्रॉन से अमेरिका में हाहाकार! वैक्सीन के अलावा दवा भी बेअसर, एक्सपर्ट ने दी चेतावनी

ड्रग्स कंपनियों ने कहा है कि ओमिक्रॉन से लड़ने के लिए किस दवा का अब इस्तेमाल किया जाए इसको लेकर फिलहाल रिसर्च चल रहे हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

ड्रग्स कंपनियों ने कहा है कि ओमिक्रॉन से लड़ने के लिए किस दवा का अब इस्तेमाल किया जाए इसको लेकर फिलहाल रिसर्च चल रहे हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

Omicron: विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि 89 देशों में ओमिक्रॉन फैल चुका है. एक्सपर्ट्स के मुताबिक ये वेरिएंट हर दूसरे से तीसरे दिन में दोगुनी रफ्तार से बढ़ रहा है. ब्रिटेन में ओमिक्रॉन के 10,000 से अधिक संक्रमित मिले हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) को लेकर पूरी दुनिया में कोहराम मचा है. अमेरिका से लेकर यूरोप हर जगह से ओमिक्रॉन के नए मरीजों की संख्या में बेतहाशा बढ़त देखी जा रही है. ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जावेद ने कहा है कि उनके देश में 60 फीसदी नए संक्रमण ओमिक्रॉन के हैं. अमेरिका में व्हाइट हाउस के मेडिकल सलाहकार डॉ एंथनी फाउची (Dr. Anthony Fauci) ने कहा है कि आने वाले कुछ दिनों में ओमिक्रॉन से संक्रमित मरीजों की संख्या डेल्टा वेरिएंट से ज्यादा हो जाएगी. इस बीच नए रिसर्च में पता चला है कि ज्यादातर कोरोना की मौजूदा वैक्सीन ओमिक्रॉन के खिलाफ बेअसर है.

    कोरोना के खिलाफ कोई दवाई भी पूरी तरह कारगर नहीं है. कई दूसरी बीमारों में इस्तेमाल होने वाली दवा ही कोरोना के मरीजों को दी जाती है. लेकिन अब ओमिक्रॉन के आने के बाद कई दवा कंपनियों ने हाथ खड़े कर दिए हैं. अमेरिकी अखबार यूएस टूडे के मुताबिक पिछले एक साल से इस्तेमाल हो रहे रेजेनॉर्न और इली लिली की एंटीबॉडी ड्रग्स का असर ओमिक्रॉन के खिलाफ नहीं दिख रहा है. दोनों कंपनियों ने कहा है कि शुरुआती रिसर्च में पता चला है कि ओमिक्रॉन से संक्रमित मरीज इससे ठीक नहीं हो रहे हैं.

    नए रिसर्स के बाद दवा
    ड्रग्स कंपनियों ने कहा है कि ओमिक्रॉन से लड़ने के लिए किस दवा का अब इस्तेमाल किया जाए इसको लेकर फिलहाल रिसर्च चल रहे हैं. लेकिन किसी ठोस नतीजे पर पहुंचने के लिए कई महीने लग सकते हैं. दलअसल ओमिक्रॉन में तेज़ी से म्यूटेशन हो रहा है. ऐसे में इसे ट्रैक करना आसान नहीं है. यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास साउथवेस्टर्न मेडिकल सेंटर के डॉक्टर जेम्स कटरेल ने कहा, ‘अगर हमारे पास एंटीबॉडी की कमी है तो हम निश्चित रूप से अस्पताल में भर्ती होने वाले लोगों की संख्या में बढ़त देखने जा रहे हैं. .’

    एक्सपर्ट ने दी चेतावनी
    ब्रिटिश दवा निर्माता ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन की तीसरी एंटीबॉडी ओमाइक्रोन से लड़ने के लिए सबसे अच्छी हालत में लग रही है. लेकिन ग्लैक्सो की दवा अमेरिका में व्यापक रूप से उपलब्ध नहीं है. इस बीच अमेरिका में एनबीसी के ‘मीट द प्रेस’ प्रोग्राम में डॉ फाउची ने कहा कि वेरिएंट में तेजी से संक्रमित करने की क्षमता है. ऐसे में लॉकडाउन की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता. उनका कहना है कि कुछ ही दिनों में ओमिक्रॉन से संक्रमित मरीजों की संख्या डेल्टा वेरिएंट से ज्यादा हो जाएगी.

    89 देशों में ओमिक्रॉन
    विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि 89 देशों में ओमिक्रॉन फैल चुका है. एक्सपर्ट्स के मुताबिक ये वेरिएंट हर दूसरे से तीसरे दिन में दोगुनी रफ्तार से बढ़ रहा है. ब्रिटेन में ओमिक्रॉन के 10,000 से अधिक संक्रमित मिले हैं. 24 घंटे के अंदर ये अब तक सबसे ज्यादा केस हैं. ब्रिटेन में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 90,418 नए मामले दर्ज किए गए है. यहां भी लॉकडाउन लगाने को लेकर बात चल रही है.

    Tags: Omicron, Omicron variant

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर