Home /News /nation /

Omicron: कर्नाटक में नए नियम, सभी अंतरराष्‍ट्रीय यात्रियों का टेस्‍ट अनिवार्य, राज्‍य सरकार हाई अलर्ट पर 

Omicron: कर्नाटक में नए नियम, सभी अंतरराष्‍ट्रीय यात्रियों का टेस्‍ट अनिवार्य, राज्‍य सरकार हाई अलर्ट पर 

कर्नाटक सरकार ने अब तक 'जोखिम वाले' देशों के 16,000 यात्रियों के RTPCR टेस्‍ट किए हैं.

कर्नाटक सरकार ने अब तक 'जोखिम वाले' देशों के 16,000 यात्रियों के RTPCR टेस्‍ट किए हैं.

Omicron variant of coronavirus in Karnataka: कर्नाटक (Karnataka) में गुरुवार को ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron variant) के दो मामलों के सामने आने पर राज्य सरकार (State government) ने नई गाइडलाइन (New Guideline) जारी कर दी है. राज्य सरकार ने नए दिशानिर्देशों में 15 जनवरी, 2021 तक स्कूलों और कॉलेजों में कार्यक्रमों पर भी प्रतिबंध लगा दिया और शादियों में अधिकतम 500 लोगों को अनुमति दी गई है. सीएम बोम्‍मई (CM Basavaraj Bommai) ने News18 इंडिया चौपाल में कहा था कि उनकी सरकार ओमिक्रॉन मामलों के मद्देनजर नए दिशानिर्देश जारी करेगी और वे चुनौती से लड़ने के लिए तैयार हैं. ट्रैकिंग और परीक्षण के संबंध में राज्य सावधान और सतर्क है.

अधिक पढ़ें ...

    बेंगलुरु. कर्नाटक (Karnataka) में गुरुवार को ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron variant) के दो मामले सामने आने पर राज्य सरकार (State government) ने नई गाइडलाइन (New Guideline) जारी कर दी है. इसमें कहा गया है कि सभी अंतरराष्‍ट्रीय यात्रियों को आगमन पर टेस्‍ट कराना अनिवार्य होगा. जब तक उनकी टेस्‍ट रिपोर्ट निगेटिव नहीं आती, वे यात्रा नहीं कर सकेंगे. राज्‍य में हर दिन एक लाख कोरोना टेस्‍ट होंगे और मॉल, सिनेमाघरों या स्‍कूल में कोरोना वैक्‍सीन की दोनों डोज अनिवार्य कर दी गई हैं. राज्य सरकार ने नए दिशानिर्देशों में 15 जनवरी, 2021 तक स्कूलों और कॉलेजों में कार्यक्रमों पर भी प्रतिबंध लगा दिया और शादियों में अधिकतम 500 लोगों को अनुमति दी गई है.

    राज्‍य के राजस्‍व मंत्री आर अशोक ने बताया कि राज्‍य में आपात स्थिति से निपटने के लिए ऑक्‍सीजन और आईसीयू बेड आदि की तैयारियां की गई हैं. इस साल की शुरुआत में आई कोरोना की दूसरी लहर के दौरान जैसी तैयारियां की गई थीं, वैसी व्‍यवस्‍था बनाई जा रही है. ऑक्‍सीजन आपूर्ति के नेटवर्क भी बनाए जा रहे हैं. राज्‍य में दवाएं और वैक्‍सीन का स्‍टॉक भी किया जा रहा है. उन्‍होंने कहा कि अभी दुनिया भर में ओमिक्रॉन के 400 मामले दर्ज हुए हैं जबकि राज्‍य में ऐसे दो मामले हैं. इस बीमारी पर कोई अध्‍ययन फिलहाल नहीं है. हालांकि ऐसा बताया गया है कि इसके लक्षणों में यह गंभीर नहीं है और अब तक कोई मौत नहीं हुई है. उन्‍होंने कहा कि हम केंद्र सरकार को पत्र लिख रहे हैं और उनसे एक्‍सपर्ट रिपोर्ट मांग रहे हैं.

    ये भी पढ़ें : ओमिक्रॉन वेरिएंट से बचाव के लिए भारत में दी जाएगी वैक्सीन की बूस्टर डोज? स्वास्थ्य मंत्री ने दिया जवाब

    ये भी पढ़ें : ओमिक्रॉन के खतरे के बीच बड़ी लापरवाही, अफ्रीकी देशों से आए 10 यात्री बेंगलुरु में ‘लापता’

    मंत्री ने बताया कि एक बार फिर से कंट्रोल रूम बनाया जा रहा है और इसके लिए कर्मचारियों की नियुक्ति भी होगी. सरकार ने मॉल, सिनेमाघरों और यहां तक जो अपने बच्‍चों को स्‍कूल भेज रहे हैं, उन सभी माता-पिता के लिए टीकाकरण पर जोर दिया है. उन्‍होंने कहा कि वैक्‍सीन की दोनों डोज के लिए जोर दिया जा रहा है. इससे पहले मुख्‍यमंत्री बस्‍वराज बोम्‍मई की अध्‍यक्षता में एक बैठक हुई, जिसमें कई अधिकारियों के साथ स्‍वास्‍थ्‍य और नगरीय निकाय के अधिकारी शामिल हुए. बैठक के बाद मंत्री अशोक ने कहा कि 15 जनवरी तक स्‍कूलों और कॉलेजों में कार्यक्रमों पर प्रतिबंध लगा दिया है और शादियों में अधिकतम 500 लोगों की अनुमति होगी.

    दक्षिण अफ्रीकी नागरिक की मदद करने वाले अपराधियों को पुलिस पकड़ेगी
    ब्रीफिंग में मंत्री ने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर उन अपराधियों को पकड़ेगी जिन लोगों ने ओमिक्रॉन पॉजिटिव आए दक्षिण अफ्रीकी नागरिक को मदद पहुंचाई. वापस जाने के लिए इस नागरिक ने निजी लैब से निगेटिव टेस्‍ट रिपोर्ट ली और इसके आधार पर दुबई चला गया. वह 20 नवंबर को बेंगलुरु आया था. मंत्री ने बताया कि अभी तक 10 अंतरराष्‍ट्रीय यात्रियों के गुम होने की सूचना है. हालांकि पुलिस छानबीन में जुटी हुई है और जल्‍द सबका पता लगाकर उनका टेस्‍ट कराएगी.

    राज्‍य सरकार सतर्क और सावधान : सीएम बस्‍वराज बोम्‍मई
    सीएम बस्‍वराज बोम्‍मई (CM Basavaraj Bommai) ने News18 इंडिया चौपाल में कहा था कि उनकी सरकार ओमिक्रॉन मामलों के मद्देनजर नए दिशानिर्देश जारी करेगी और वो चुनौती से लड़ने के लिए तैयार हैं. ट्रैकिंग और परीक्षण के संबंध में राज्य सावधान और सतर्क है. इधर केंद्र सरकार ने कहा था कि ओमिक्रॉन से जुड़े सभी मामलों में हल्‍के लक्षण पाए गए हैं. संयुक्त सचिव, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय लव अग्रवाल ने एक प्रेस वार्ता में कहा था कि देश और दुनिया भर में अब तक ऐसे सभी मामलों में, कोई गंभीर लक्षण नहीं देखा गया है. डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि इसके उभरते सबूतों का अध्ययन किया जा रहा है.

    Tags: CM Basavaraj Bommai, Karnataka, New Guideline, Omicron variant, State government

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर