Home /News /nation /

Omicron को लेकर वायरोलॉजिस्ट का बड़ा खुलासा- दुनिया में एक साथ चल रही दो महामारियां

Omicron को लेकर वायरोलॉजिस्ट का बड़ा खुलासा- दुनिया में एक साथ चल रही दो महामारियां

दुनिया भार में ओमिक्रॉन के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं.(फाइल फोटो)

दुनिया भार में ओमिक्रॉन के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं.(फाइल फोटो)

Coronavirus, Covid19, Omicron: ओमिक्रॉन की उत्पत्ति के बारे में वायरोलॉजिस्ट ने कहा कि कोरोना का यह वेरिएंट वुहान-D614G, अल्फा, बीटा, गामा, डेल्टा, कप्पा या म्यू द्वारा उत्तपन्न वायरस नहीं है इतना सुनिश्चित है. उन्होंने कहा कि ओमिक्रॉन के वंश का पता नहीं है लेकिन इसका वुहान -D614G से कुछ दूर का संबंध है जिससे महामारी शुरू हुई थी.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली: दुनिया भर में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Corona New Variant Omicron) के मामले बढ़ रहे हैं और अभी तक इस वायरस (Corona virus) की प्रकृति और बदलाव को लेकर  वैज्ञानिक लगातार रिसर्च कर रहे हैं. इस बीच प्रसिद्ध वायरोलॉजिस्ट और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के पूर्व प्रमुख डॉ. टी जैकब जॉन ने ओमिक्रॉन को लेकर बड़ा खुलासा किया है. उन्होंने कहा कि बहुत ज्यादा संभावना है कि इस समय पूरी दुनिया में दो महामारियां एक साथ चल रही हैं. एक डेल्टा द्वारा और दूसरी ओमिक्रॉन के द्वारा. जैकब ने कहा कि यह दोनों अलग हैं.

ओमिक्रॉन की उत्पत्ति के बारे में वायरोलॉजिस्ट ने कहा कि कोरोना का यह वेरिएंट वुहान-D614G, अल्फा, बीटा, गामा, डेल्टा, कप्पा या म्यू द्वारा उत्तपन्न वायरस नहीं है इतना सुनिश्चित है. उन्होंने कहा कि ओमिक्रॉन के वंश का पता नहीं है लेकिन इसका वुहान -D614G से कुछ दूर का संबंध है जिससे यह महामारी शुरू हुई थी.

ये भी पढ़ें- अखिलेश यादव का डबल इंजन की सरकार तंज, बोले- दिल्ली और लखनऊ वाले खोल रहे एक-दूसरे के पहिये

चिकित्सा वैज्ञानिक ने कहा कि हमें भविष्य में दो महामारियों के बारे में भी सोचना चाहिए- एक डेल्टा और इसके करीबी रिलेटिव और दूसरी ओमिक्रॉन और इसके दूसरे वेरिएंट से उत्पन्न होने वाली महामारी. उन्होंने कहा कि यह वायरस दूसरे वायरस से पूरी तरह से अलग है इसी वजह से इसके संक्रमण की पहचान जीनोम सिक्वेंसिंग के जरिए होती है और संक्रमित लोगों में इसके लक्षण भी भिन्न हैं.

दोनों वेरिएंट्स में है ये बड़ा अंतर
डॉ. जैकब ने कहा कि कोविड19 जहां लोगों के श्वसन प्रणाली पर अटैक कर रहा था वहीं ओमिक्रॉन ज्यादातर मामलों में सिर्फ गले के क्षेत्र पर ही रुक जाता है. उन्होंने कोविड की तीसरी लहर के बार में कहा कि इसका प्रभाव मेट्रो शहरों में ज्यादा देखने को मिलेगा और संक्रमण के मामले जितनी तेजी से ऊपर जाएंग उतनी ही तेजी से ये नीचे भी गिरेंगे.

यह पूछे जाने पर कि क्या तीसरी लहर अपने चरम पर पहुंच गयी है क्योंकि कुछ जगहों पर मामले कम होने लगे हैं, जॉन ने कहा कि महानगरों में पहले संक्रमण शुरू हुआ था और पहले खत्म होगा.

उन्होंने कहा, ‘‘सभी साथ में एक राष्ट्रीय महामारी हैं.’’

कोरोना वायरस के अत्यधिक संक्रामक स्वरूप ओमिक्रॉन से भारत में कोविड-19 महामारी की तीसरी लहर चल रही है.

देश में कोविड-19 के 2,71,202 नये मामले आने के बाद संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 3,71,22,164 हो गए. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के रविवार के अद्यतन आंकड़ों के मुताबिक इनमें कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन स्वरूप के 7,743 मामले भी शामिल हैं.

Tags: Coronavirus, Omicron

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर