Home /News /nation /

क्या ओमिक्रॉन के खिलाफ असरदार है कोरोना की मौजूदा वैक्सीन? ICMR के वैज्ञानिक ने कही ये बात

क्या ओमिक्रॉन के खिलाफ असरदार है कोरोना की मौजूदा वैक्सीन? ICMR के वैज्ञानिक ने कही ये बात

ओमिक्रॉन वेरिएंट वैक्सीन लगवा चुके लोगों को भी संक्रमित कर सकता है. (फोटो- रॉयटर्स)

ओमिक्रॉन वेरिएंट वैक्सीन लगवा चुके लोगों को भी संक्रमित कर सकता है. (फोटो- रॉयटर्स)

Omicron: एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया का कहना है कि कोरोना (Covid-19) के ओमिक्रॉन के 30 से ज्यादा म्यूटेंट हो चुके हैं. ऐसे में इसके खिलाफ टीकों की प्रभावकारिता का गंभीर रूप से मूल्यांकन करने की आवश्यकता है. डॉक्टर रमन गंगाखेडकर के मुताबिक ओमिक्रॉन ऐसे लोगों को निशाना बना सकता है जिसने अभी तक कोरोना की वैक्सीन नहीं ली है. हर किसी को खुद को वायरस से बचाने के लिए प्रयास करना चाहिए.

अधिक पढ़ें ...

    (हिमानी चंदना)

    नई दिल्ली. कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) को लेकर इस वक्त पूरी दुनिया में दहशत है. ओमिक्रॉन पर कोरोना की मौजूदा वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) असरदार है या नहीं इसको लेकर भी फिलहाल तस्वीर साफ नहीं है. इस बीच इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के पूर्व वैज्ञानिक डॉक्टर रमन गंगाखेडकर ने News18 को बताया कि टीके SARS-CoV-2 के नए ‘वेरिएंट के खिलाफ केवल आंशिक सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं.

    डॉक्टर रमन गंगाखेडकर ने कहा, ‘ओमिक्रॉन ऐसे लोगों को निशाना बना सकता है जिसने अभी तक कोरोना की वैक्सीन नहीं ली है. हर किसी को खुद को वायरस से बचाने के लिए प्रयास करना चाहिए. गंगाखेडकर के अनुसार, सरकार को उन लोगों के बीच टीकाकरण कवरेज में तुरंत तेजी लाने की जरूरत है, जिन्होंने अभी तक कोविड -19 वैक्सीन की पहली खुराक और दूसरी खुराक नहीं ली है. उन्होंने कहा, ‘समय पर दूसरी खुराक लेने की जागरूकता भी बढ़ाई जानी चाहिए.’

    क्या करे सरकार?
    उन्होंने ये भी कहा कि देश में संक्रमण की मौजूदा संख्या को देखते हुए आक्रामक टेस्टिंग, ट्रैकिंग और ट्रेसिंग शुरू करने का ये सही समय है. उन्होंने कहा, ‘कोविड -19 के कारण स्वास्थ्य प्रणाली न्यूनतम तनाव में है. हालांकि हमें ओमिक्रॉन स्ट्रेन वाले लोगों को तुरंत अलग करने की आवश्यकता है, ये मान लेना अच्छा होगा कि प्रत्येक संक्रमित व्यक्ति के पास ओमिक्रॉन का वेरिएंट हो सकता है और बाद की रणनीतियों को तेज कर सकता है.’

    क्या कहा है फाइज़र ने ?
    बता दें कि दो दिन पहले फाइजर ने एक बयान जारी कर कहा था कि वो फिलहाल मौजूदा वैक्सीन को ओमिक्रॉन के खिलाफ टेस्ट कर रहे हैं. कंपनी के मुताबिक अगर ये असरदार नहीं हुआ तो फिर मौजूदा वैक्सीन में कुछ फेरबदल कर नई वैक्सीन तैयार जल्द ही तैयार की जाएगी. कहा जा रहा है कि अगले दो हफ्ते में टेस्ट के नतीजे सामने आ जाएंगे. कंपनी ने कहा है कि वो अगले सौ दिनों के अंदर इसके लिए नई वैक्सीन तैयार करेगी.

    एम्स के निदेशक ने दी चेतावनी
    इस बीच एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया का कहना है कि कोरोना के ओमिक्रॉन के 30 से ज्यादा म्यूटेंट हो चुके हैं. ऐसे में इसके खिलाफ टीकों की प्रभावकारिता का गंभीर रूप से मूल्यांकन करने की आवश्यकता है. उनके मुताबिक हो सकता है कि कोरोना का नया वेरिएंट वैक्सीन के असर को खत्म भी कर सकता है. हालांकि इस पर रिसर्च करने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि ओमिक्रॉन वेरिएंट वैक्सीन लगवा चुके लोगों को भी संक्रमित कर सकता है.

    Tags: Covid-19 Crisis, ICMR, Omicron, Omicron variant

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर