Home /News /nation /

इजरायल में पढ़ने वाले, काम करने वाले भारतीयों के प्रवेश पर रोक नहीं, भारत में इजरायल के राजदूत ने दी जानकारी

इजरायल में पढ़ने वाले, काम करने वाले भारतीयों के प्रवेश पर रोक नहीं, भारत में इजरायल के राजदूत ने दी जानकारी

इजरायल में पढ़ने वाले, काम करने वाले भारतीयों के प्रवेश पर रोक नहीं, भारत में इजरायल के राजदूत ने दी जानकारी

इजरायल में पढ़ने वाले, काम करने वाले भारतीयों के प्रवेश पर रोक नहीं, भारत में इजरायल के राजदूत ने दी जानकारी

Ambassador of Israel to India reaction on Travel Ban: भारत में इजरायल के राजदूत ने कहा कि वे भारतीय जो इजरायल में रहकर काम और पढ़ाई कर रहे हैं वे इजरायल आ सकते हैं इसमें कोई परेशानी नहीं है. नाओर गिलोन ने कहा कि जब तक फ्लाइट्स उपलब्ध हैं भारतीय इजरायल छोड़ सकते हैं. कि मुझे लगता है कि अगले कुछ सप्ताह में कोरोना वायरस के इस नए म्यूटेशन को समझने में मदद मिलेगी. इसके बाद ही इन नीतियों में ढील दी जाएगी. इससे पहले इजरायल ने विदेश से आने वाले सभी लोगों के लिए सीमाएं बंद कर दी हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) की वजह से इजरायल ने सभी विदेशी यात्रियों पर रोक लगा दी है. इस बीच भारत में इजरायल (Israel) के राजदूत नाओर गिलोन ने कहा कि “जब तक फ्लाइट्स उपलब्ध हैं भारतीय इजरायल छोड़ सकते हैं. सिर्फ स्थायी निवासी ही इजरायल में प्रवेश कर सकते हैं इसलिए वे भारतीय जो इजरायल में रहकर काम और पढ़ाई कर रहे हैं वे इजरायल आ सकते हैं इसमें कोई परेशानी नहीं है.” भारत में इजरायल के राजदूत नाओर गिलोन ने कहा कि “इजरायल पहला देश था जिसने ओमिक्रॉन वेरिएंट की पहचान की थी. साउथ अफ्रीका से आई एक महिला में यह वायरस का यह वेरिएंट पाया गया था. इसके बाद हमने बॉर्डर्स को सील करने का फैसला किया. क्योंकि इस बारे में कोई जानकारी नहीं है कि यह म्यूटेशन कितना खतरनाक है.”

    सभी विदेश यात्रियों के इजरायल में प्रवेश पर रोक लगाने के सवाल पर नाओर गिलोन ने कहा कि “मुझे लगता है कि अगले कुछ सप्ताह में कोरोना वायरस के इस नए म्यूटेशन को समझने में मदद मिलेगी.
    इसके बाद ही इन नीतियों में ढील दी जाएगी. इससे पहले इजरायल ने विदेश से आने वाले सभी लोगों के लिए सीमाएं बंद कर दी हैं. शुक्रवार को ही देश में ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित पहला मरीज मिला था.
    इसके बाद ही इजरायल ने कई दक्षिण अफ्रीकी देशों के यात्रियों पर रोक लगा दी थी. ओमिक्रॉन का पहला मामला दक्षिण अफ्रीका में मिला था.”

    न्यूज एजेंसी AFP के अनुसार, इजरायल ने सभी विदेशी यात्रियों के लिए सीमाएं बंद कर दी हैं. बीबीसी की रिपोर्ट में स्थानीय मीडिया के हवाले से कहा गया कि इजरायल 14 दिनों के लिए विदेशी यात्रियों के
    देश में प्रवेश पर रोक लगाने की तैयारी कर रहा था. इससे पहले भी कई देश दक्षिण अफ्रीका से यात्राओं पर रोक लगा चुके हैं.

    कोरोना वायरस के नये वेरिएंट पर चर्चा के लिए शुक्रवार को बुलाई गई कैबिनेट की बैठक में प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट ने कहा कि वायरस का यह वेरिएंट ज्यादा संक्रामक है और डेल्टा वेरिएंट से ज्यादा तेजी से फैलता है. उन्होंने कहा कि अधिकारी अभी इस बारे में सूचना जुटा रहे हैं कि क्या वैक्सीन इस पर निष्प्रभावी हैं और क्या यह जानलेवा साबित हो सकता है.

    Tags: Coronavirus, Israel, Omicron variant

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर