Home /News /nation /

ओमिक्रॉन के खतरे के बीच बड़ी लापरवाही, अफ्रीकी देशों से आए 10 यात्री बेंगलुरु में 'लापता'

ओमिक्रॉन के खतरे के बीच बड़ी लापरवाही, अफ्रीकी देशों से आए 10 यात्री बेंगलुरु में 'लापता'

देश में कोरोना वायरस के खतरनाक वैरिएंट ओमिक्रॉन ने दस्तक दे दी है.(प्रतीकात्मक तस्वीर: PTI)

देश में कोरोना वायरस के खतरनाक वैरिएंट ओमिक्रॉन ने दस्तक दे दी है.(प्रतीकात्मक तस्वीर: PTI)

Omicron variant of coronavirus in Karnataka: कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. के सुधाकर ने कहा, 'साउथ अफ्रीका में ओमिक्रॉन पाए जाने के बाद बेंगलुरु में 57 यात्री आए. इन 57 में से 10 को बीबीएमपी ट्रेस नहीं कर पाई है. उनका फोन स्विच ऑफ है और वे दिए गए पते पर उपलब्ध नहीं हैं.'

अधिक पढ़ें ...

    बेंगलुरु. भारत में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Coronavirus Omicron Variant) के मामले आने के बाद एक बड़ी लापरवाही सामने आई है. बेंगलुरु में अफ्रीकी देशों से आए 10 अंतरराष्ट्रीय यात्री लापता हैं. ये 10 लोग ऐसे समय पर लापता हैं जब कर्नाटक में ओमिक्रॉन वेरिएंट (Karnataka Omicron case) के दो कोविड केस मिल चुके हैं. देश में पहली बार इस वेरिएंट के मामले कर्नाटक में ही मिले हैं.

    स्वास्थ्य अधिकारी अब विदेशियों की तलाश में जुटे हैं. बीबीएमपी के कमिश्नर गौरव गुप्ता ने कहा, ‘ट्रैकिंग एक निरंतर प्रक्रिया है और हम ऐसा करते रहेंगे. यदि कोई फोन पर जवाब नहीं दे रहा है तो एक स्टैंडर्ड प्रोटोकॉल है और हम इसका पालन करेंगे.’ मीडिया से बातचीत के दौरान गौरव गुप्ता ने लोगों से सतर्क रहने और कोरोना से बचाव के लिए सभी प्रोटोकॉल को फॉलो करने के लिए कहा. कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. के सुधाकर ने कहा, ‘साउथ अफ्रीका में ओमिक्रॉन पाए जाने के बाद बेंगलुरु में 57 यात्री आए. इन 57 में से 10 को बीबीएमपी ट्रेस नहीं कर पाई है. उनका फोन स्विच ऑफ है और वे दिए गए पते पर उपलब्ध नहीं हैं.’

    सबसे पहले कर्नाटक में मिले कोरोना के मामले
    भारत में कोरोना के ओमिक्रॉन वेरिएंट के सबसे पहले मामले कर्नाटक में ही सामने आए हैं. ज्वाइंट हेल्थ सेक्रेटरी लव अग्रवाल ने कहा कि जीनोम सीक्वेंसिंग के जरिए इन मरीजों में मामलों की पुष्टि हुई है. संक्रमित पाए गए मरीजों में से एक की उम्र 64 साल है, जबकि एक शख्स की उम्र 46 साल है. केंद्रीय संयुक्त स्वास्थ्य सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि जिन दो लोगों में इस वेरिएंट की पुष्टि हुई है, दोनों ही कर्नाटक के रहने वाले हैं. इन दोनों ही मरीजों में मामूली लक्षण ही पाए गए हैं और उन्हें क्वारेंटाइन किया गया है.

    डेल्टा वेरिएंट से ज्यादा खतरनाक है ओमिक्रॉन
    कोरोना वायरस के हर वेरिएंट में उसके SPIKE प्रोटीन में फर्क होता है. डेल्टा वेरिएंट के SPIKE प्रोटीन में 2 म्यूटेशन थे जबकि ओमिक्रॉन वेरिएंट में उससे कई गुणा ज्यादा म्यूटेशन है.

    ये भी पढ़ेंः- मंगल ग्रह पर कैसा होता है सूर्यास्त?, NASA ने पहली बार दुनिया को दिखाई ये अद्भुत तस्वीर

    यही वजह है कि ओमिक्रॉन ज्यादा संक्रमण फैला सकता है. एक इंसान से दूसरे इंसान में फैलने की इसकी रफ्तार पहले वेरिएंट से बहुत ज्यादा तेज है.

    Tags: Coronavirus, Coronavirus Case, Coronavirus Case in India, Coronavirus cases in Karnataka, Omicron, Omicron variant

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर