कांग्रेस ने पूछा- रक्षा मंत्री के बयान में चीन का जिक्र क्यों नहीं, नाम लिखने से डर रहे हैं क्या?

कांग्रेस ने पूछा- रक्षा मंत्री के बयान में चीन का जिक्र क्यों नहीं, नाम लिखने से डर रहे हैं क्या?
लद्दाख में चीन के साथ हिंसक झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए हैं.

पूर्वी लद्दाख (East Ladakh) की गलवान घाटी (Galwan Valley) में सोमवार रात चीनी सैनिकों (India China Rift) के साथ हिंसक झड़प में भारतीय सेना के एक कर्नल सहित 20 सैन्यकर्मी शहीद हो गए.

  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस (Congress) ने लद्दाख (Ladakh) की गलवान घाटी  (Galwan Valley) में भारतीय सैनिकों (Indian Army) की शाहदत पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह  (Rajanath Singh) के बयान में ‘चीन का जिक्र नहीं होने’ पर बुधवार को सवाल किया और कहा कि ‘गुमराह करने’ के बजाय उन्हें सामने आकर जवाब देना चाहिए. पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह सवाल भी किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लद्दाख की घटना पर कब बयान देंगे?

उन्होंने राजनाथ सिंह के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए कहा, 'काश, ‘जन संवाद’ रैलियों व विपक्षी सरकारें गिराने से समय निकाल मोदी जी व आप ने देश की सुरक्षा की सुध ली होती तो चीन कभी यह दुस्साहस नही कर सकता था. अब तो ट्विटर से बाहर आ चुप्पी तोड़िए. और प्रधानमंत्री जी कब कुछ कहेंगे?'

सुरजेवाला ने सवाल किया, 'राजनाथ सिंह जी, चीन का नाम तक लिखने से भी क्या डर है? हमारे कितने सैनिक शहीद हुए हैं? आप ये क्यों नही बता रहे? क्या चीन ने हमारे सैनिक अगवा किए हैं?' उन्होंने कहा, 'गुमराह मत करें, सामने आकर जबाब दें.'





एक कर्नल सहित 20 सैन्यकर्मी शहीद
रक्षा मंत्री ने चीनी सेना के साथ हिंसक झड़प में शहीद हुए भारतीय जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए बुधवार को कहा कि गलवान घाटी में सैनिकों को गंवाना बहुत परेशान करने वाला और दु:खद है. सिंह ने ट्वीट किया कि भारतीय जवानों ने कर्तव्य का पालन करते हुए अदम्य साहस एवं वीरता का प्रदर्शन किया और अपनी जान न्यौछावर कर दी.

रक्षा मंत्री ने ट्वीट किया, 'देश अपने सैनिकों की बहादुरी और बलिदान को कभी नहीं भूलेगा. शहीद सैनिकों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं. देश इस मुश्किल समय में उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है. हमें भारत के वीरों की बहादुरी और साहस पर गर्व है.'

गौरतलब है कि पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में सोमवार रात चीनी सैनिकों (India China Rift) के साथ हिंसक झड़प में भारतीय सेना के एक कर्नल सहित 20 सैन्यकर्मी शहीद हो गए.

यह भी पढ़ें:  चीनी सैनिकों से झड़प में शहीद हुए जवानों के नाम आए सामने, देश को इन पर है गर्व
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज