पश्चिम बंगाल में सूटकेस में दो टुकड़ों में मिली दंपति की लाश

फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड भी मौके पर पहुंच गई है. शवों को पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया है लेकिन हत्या के मकसद का अभी तक खुलासा नहीं हो सका है.

News18Hindi
Updated: July 31, 2019, 9:15 AM IST
पश्चिम बंगाल में सूटकेस में दो टुकड़ों में मिली दंपति की लाश
पश्चिम बंगाल में सूटकेस में दो टुकड़ों में मिली दंपति की लाश
News18Hindi
Updated: July 31, 2019, 9:15 AM IST
पश्चिम बंगाल में मंगलवार को दिल दहला देने वाली दो घटनाएं सामने आईं. पहली घटना दक्षिण 24 परगना जिले के नरेंद्रपुर में हुई, जहां एक जोड़े का शव अलग-अलग सूटकेस से बरामद किया गया जबकि दूसरी घटना नेताजी नगर की है. यहां पर एक बुजुर्ग दंपति को निशाना बनाते हुए उनकी हत्या कर दी गई. बताया जाता है कि सूटकेस में मिले शव को दो टुकड़ों में काट दिया गया था.

नरेंद्रपुर पुलिस के मुताबिक प्रदीप विश्वास (50) और अल्पना बिस्वास (40) का शव एक फार्महाउस के शौचालय में दो ट्रॉली बैग में कटा हुआ मिला. बताया जाता है कि प्रदीप और अल्पना कुछ दिन पहले प्रदीप के बड़े भाई जॉय से मिले थे. उसके बाद से उनका कुछ भी पता नहीं चल रहा था. इस संबंध में जॉय ने पुलिस को सूचना भी दी थी. बताया जाता है कि पड़ोसियों को जब घर से दुर्गंध आने लगी तो उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी. पुलिस ने पूरे घर की तलाशी ली तो बाथरूम में दो सूटकेस ट्रॉली मिलीं. सूटकेस को खोलने पर दोनों का सिर कटा हुआ था और दोनों को अलग-अलग सूटकेस में मारकर रखा गया था.

घटना के बाद पुलिस ने पूरे फॉर्महाउस को जांच शुरू कर दी है. फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड भी मौके पर पहुंच गई है. शवों को पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया है लेकिन हत्या के मकसद का अभी तक खुलासा नहीं हो सका है. बताया जाता है कि दंपति फॉर्महाउस के केयरटेकर थे. ये फॉर्महाउस दीपांकर दे का है जो कोलकाता के कस्बा इलाके में रहते हैं.

डकैती के इदारे से की गई बुजुर्ग दंपति की हत्या

दूसरी घटना में दिलीप मुखर्जी (75) और उनकी पत्नी सपना (72) के साथ नेताजी नगर में रहते थे. बताया जाता है कि मंगलवार रात डकैती के इरादे से घुसे कुछ बदमाशों ने उनकी हत्या कर दी. घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दिलीप का शव बिस्तर में पड़ा पाया जबकि सपना का शव सीढ़ियों के पास पड़ा हुआ था.

घर में काम कर चुके मजदूरों पर शक
अभी तक की जांच में पता चला है कि दिलीप को तकिए से दबाकर मारा गया है जबकि सपना की हत्या गला दबाकर की गई है. पुलिस ने जांच में पाया है कि कमरे में तोड़फोड़ की गई है और घर से 50,000-70,000 रुपये की नकदी गायब है. बताया जाता है कि घर में कुछ दिन पहले ही मरम्मत का काम कराया गया था और मजदूरों को घर के अंदर तक आने की पूरी छूट थी. दंपति के कोई बच्चे नहीं हैं.
First published: July 31, 2019, 7:54 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...