PM Cares Fund से खरीदे जाएंगे 1 लाख ऑक्‍सीजन कंसंट्रेटर, लगेंगे 1,213 ऑक्सीजन प्लांट

ऑक्सीजन की भारी किल्लत से निपटने के लिए केंद्र सरकार कई बड़ी योजनाओं पर काम कर रही है. (सांकेतिक फोटो)

COVID 19 in India: पीएम केयर कोष में से 1 लाख ऑक्‍सीजन कंसंट्रेटर की खरीद की मंजूरी दी गई है. देश में लिक्‍विड मेडिकल ऑक्‍सीजन के परिवहन की निगरानी रखने के लिए प्रभावी ऑक्‍सीजन डिजिटल ट्रेकिंग सिस्‍टम विकसित किया गया है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. देश में कोरोना संक्रमित (Coronavirus) मरीजों की संख्या अब तेजी से कम हो रही है. देश में 63 दिनों बाद पिछले 24 घंटों में रोजाना एक लाख से कम नए मामले दर्ज किए गए हैं. पिछले 24 घंटों में 86,498 नए मामले दर्ज किए गए तो रिकवरी करने वालों की संख्या 1,82,282 दर्ज की गई है यानी रिकवरी रेट अब बढ़कर 94.29 फीसदी हो गया है. जबकि मृत्‍यु दर 1.21 फीसदी हो गई है. अब तक 3,51,309 की मौत हो चुकी है.

    केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आज सुबह के आंकडों के अनुसार अब कुल सक्रिय मामले 13 लाख 3702 हैं जबकि अब तक कुल स्‍वस्‍थ्‍य हुए रोगियों की संख्‍या 2 करोड़ 73 लाख 41 हजार 462 है.

    इस बीच देखा जाए तो कोरोना की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की भारी किल्लत देखी गई. वहीं, अब केंद्र सरकार इससे निपटने के लिए कई बड़ी योजनाओं पर काम कर रही है. इसके लिए न केवल देश में ऑक्सीजन की उपलब्धता और इसके उत्पादन और आपूर्ति श्रृंखला में वृद्धि करने की योजना तैयार की है, बल्कि बड़े स्तर पर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की खरीद को भी मंजूरी दे दी गई है.

    सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के सचिव गिरिधर अरमाने ने कोविड-19 मंत्री समूह को अवगत कराया है कि ऑक्‍सीजन की उपलब्‍धता और वितरण में वृद्धि करने के लिए कई पहल की गई हैं. इसके लिए उत्‍पादन क्षमता बढ़ाई गई. पीएसए संयंत्र लगाए गए और जरूरत के अनुसार तत्‍काल लिक्‍विड मेडिकल ऑक्‍सीजन तथा ऑक्‍सीजन कंसंट्रेटर्स का आयात किया गया.

    उन्‍होंने अवगत कराया है कि अगस्‍त, 2020 में ऑक्‍सीजन का अत्‍पादन 5,700 मीट्रिक टन था जो कि मई, 2021 में बढ़ कर 9,500 मीट्रिक टन हो गया. लगभग 1,718 पीएसए संयंत्र स्‍थापना के लिए स्‍वीकृत किए जा चुके हैं, जिनमें से स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय और रक्षा अनुसंधान विकास संगठन द्वारा पीएम केयर्स कोष के अंतर्गत 1,213, जिनमें 108 संयंत्र पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय द्वारा, 40 कोयला मंत्रालय द्वारा, इसके अलावा 25 ऊर्जा मंत्रालय द्वारा, 19 विदेशी सहायता से और 313 राज्‍य सरकारों द्वारा लगाए जा रहे हैं.

    सचिव गिरिधर अरमाने ने यह भी बताया है कि पीएम केयर कोष में से 1 लाख ऑक्‍सीजन कंसंट्रेटर की खरीद की मंजूरी दी गई है. देश में लिक्‍विड मेडिकल ऑक्‍सीजन के परिवहन की निगरानी रखने के लिए प्रभावी ऑक्‍सीजन डिजिटल ट्रेकिंग सिस्‍टम विकसित किया गया है.