एक टीचर दो खेल संघों में पदाधिकारी...अब हाईकोर्ट ने सरकार और ओलंपिक संघ को भेजा नोटिस

एक टीचर दो खेल संघों में पदाधिकारी...अब हाईकोर्ट ने सरकार और ओलंपिक संघ को भेजा नोटिस
हाईकोर्ट ने केन्द्र., उत्तराखंड, यूपी सरकार समेत उत्तराखण्ड ओलंपिक संघ, विरेश यादव व शिक्षा विभाग उत्तर प्रदेश समेत 12 पक्षकारों को नोटिस जारी किया है.

कोर्ट (Court) ने मामले में सख्त रुख अपनाते हुए पूछा है कि ऐसा कैसे किया जा सकता है कि एक ही व्यक्ति को दो पदों पर नियुक्ति मिल जाए.

  • Share this:
नैनीताल. राज्य खेल संघ में बाहरी राज्यों के लोगों को पदों पर बैठाने के मामले में उत्तराखंड हाईकोर्ट ने गम्भीर रुख अपनाया है. उत्तर प्रदेश के सरकारी अध्यापक विरेश यादव को उत्तराखण्ड खेल संघ में पद देने पर हाईकोर्ट ने नोटिस जारी किया है. हाईकोर्ट की जस्टिस मनोज तिवाड़ी की कोर्ट ने केन्द्र राज्य यूपी सरकार समेत उत्तराखण्ड ओलंपिक संघ, विरेश यादव व शिक्षा विभाग उत्तर प्रदेश समेत 12 पक्षकारों को नोटिस जारी किया है. कोर्ट ने पूछा है कि कैसे और किन नियमों के तहत राज्य के खेल संघ में पद पर बैठाया जा सकता है?

नियम रखे ताक पर

गोपेश्वर के कीर्ति विजय ने याचिका दाखिल कर कहा है कि यूपी के विरेश यादव सरकारी स्कूल में शिक्षक हैं और उत्तराखण्ड में उनको खो-खो और तलवारबाजी संघ में सदस्य बनाया गया है. याचिका में कहा गया है कि भारतीय ओलंपिक संघ का नियम है कि राज्य ओलंपिक संघ में राज्य के ही लोग पदों पर हो सकते हैं तभी वे खेलों को बढ़ावा देंगे.



याचिका में कहा गया है कि नियमों के तहत एक व्यक्ति को एक ही खेल संघ में सदस्य बनाया जा सकता है लेकिन विरेश यादव को अन्य राज्य का होने के बाद भी दो खेल संघों में पदाधिकारी बना दिया गया. यह इंडियन ओलंपिक संघ के नियमों का उल्लंघन है.

याचिका में मांग की गई है कि उत्तराखण्ड में खेल संघों में राज्य से बाहर के लोगों को कमान न दी जाए और जुगाड़ से इन पदों पर बैठने पर रोक लगाई जाए. हालांकि अन्य खेलों में भी ऐसे ही हालात हैं और उन्हें लेकर जल्द ही कोर्ट में याचिका दाखिल होने जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज