बुखार ठीक करने के लिए एक साल के बच्चे को दागा लोहे की रॉड, संक्रमण से मौत

लोहे की रॉड से दागे जाने के बाद बच्चे को संक्रमण हो गया और चार दिन चले इलाज के बाद अस्पताल में उसकी मौत हो गई.

News18Hindi
Updated: June 3, 2019, 1:31 PM IST
बुखार ठीक करने के लिए एक साल के बच्चे को दागा लोहे की रॉड, संक्रमण से मौत
बुखार ठीक करने के लिए एक साल की बच्चे को दागा छड़, अस्पताल में मौत
News18Hindi
Updated: June 3, 2019, 1:31 PM IST
अंधविश्वास होने पर कोई किस हद तक जा सकता है इसका खामियाजा एक परिवार ने तब उठाया जब उनके एक साल के बच्चे की मौत हो गई. बच्चे को ठीक करने के लिए परिवार के लोग उसे नीम हकीम के पास लेकर पहुंचे थे, जहां उसे लोहे की रॉड से दाग दिया गया था. इससे बच्चे को संक्रमण हो गया और अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

बताया जाता है कि बनासकांटा जिले के वाव तहसील के वासेदा गांव में विपुल नाम के बच्चे को पिछले दस दिनों से बुखार आ रहा था. विपुल के परिजन उसे अस्पताल में दिखाने के बजाय नीम हमीक के पास ले गए. वहां पर नीम हकीम ने अपना टोटका आजमाया और बच्चे के शरीर पर गर्म लोहे की रॉड दाग दी. बच्चे के रोने पर उसने कहा कि कुछ ही देर में उसका बुखार उतर जाएगा. नीम हकीम की ये बात सुनकर परिवार के लोग बच्ची को लेकर घर आ गए.

इसे भी पढ़ें :- 9 साल पहले पापा शाहरुख खान की इस फिल्म से डेब्यू करने वाली थीं बेटी सुहाना

बताया जाता है कि बच्चे का बुखार फिर भी नहीं उतरा और उसे कई तरह के संक्रमण हो गए. बच्चे की हालत खराब होने पर परिजनों ने उसे दीसा के अस्पताल में भर्ती कराया. डॉक्टरों की पूछताछ के बाद परिजनों ने सारी बात बताई लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी. बताया जाता है कि अस्पताल में चार दिन तक चले इलाज के बाद बच्चे ने दम तोड़ दिया.

डॉक्टरों ने बताया कि बच्चे को न्यूमोनिया था. लोहे की छड़ से दागे जाने के बाद उसकी स्थिति बिगड़ गई. हमने उसे अहमदाबाद के राजस्थान अस्पताल रेफर कर दिया था लेकिन तब तक बहुत देर हो गई थी.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: June 3, 2019, 1:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...