हैदराबाद में 35 रुपए प्रति किलो मिलेगी प्याज, तेलंगाना सरकार ने किया फैसला

पूरे देश में प्याज की कीमतों ने आम आदमी का बजट बिगाड दिया है. फाइल फोटो: पीटीआई
पूरे देश में प्याज की कीमतों ने आम आदमी का बजट बिगाड दिया है. फाइल फोटो: पीटीआई

Onion Price increase in India: खुले बाजारों में प्याज की कीमतों में तेजी से इजाफा हुआ है. इसे देखते हुए लंगाना सरकार (Telangana Government) ने शनिवार को किसान बाजारों के जरिए 35 रुपये प्रति किलो की दर से प्याज (Onion) बेचने का फैसला किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 24, 2020, 11:24 PM IST
  • Share this:
हैदराबाद: तेलंगाना सरकार (Telangana Government) ने शनिवार को किसान बाजारों के जरिए 35 रुपये प्रति किलो की दर से प्याज (Onion) बेचने का फैसला किया. गौरतलब है कि खुले बाजारों में प्याज की कीमतों में तेजी से इजाफा हुआ है. एक प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक सरकार द्वारा संचालित 11 रायतु (किसान) बाजारों में आज से सस्ती दरों पर प्याज मिलने लगा है.

राज्य की राजधानी में स्थित रायतु बाजारों में छोटे किसान सीधे उपभोक्ताओं को सब्जियां बेच सकते हैं. विज्ञप्ति के मुताबिक एक व्यक्ति को सिर्फ दो किलो प्याज (Onion) ही बेचा जाएगा और प्याज खरीदने के लिए ग्राहक के पास पहचान पत्र भी होगा चाहिए.

कीमतों पर अंकुश के लिये स्टॉक सीमा लागू, दो टन तक माल रख सकेंगे खुदरा व्यापारी
बता दें कि घरेलू बाजार में उपलब्धता बढ़ाने और प्याज (Onion) की बढ़ती कीमतों से उपभोक्ताओं को राहत पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार ने शुक्रवार को खुदरा और थोक विक्रेताओं दोनों पर तत्काल प्रभाव से 31 दिसंबर तक के लिये स्टॉक सीमा लागू कर दी.
खुदरा व्यापारी अपने गोदाम में अब केवल दो टन तक प्याज का स्टॉक रख सकते हैं, जबकि थोक व्यापारियों को 25 टन तक प्याज रखने की अनुमति होगी. यह कदम प्याज की जमाखोरी और कालाबाजारी को रोकने के लिये उठाया गया है, पिछले कुछ हफ्तों में भारी बारिश के कारण उत्पादक क्षेत्रों में प्याज की खरीफ फसल को पहुंचे नुकसान और उसके साथ-साथ इसकी जमाखोरी के कारण प्याज की कीमतें बढ़कर 75 रुपये प्रति किलो से ऊपर पहुंच गई हैं.



सरकार के पास सिर्फ 25 हजार टन प्याज का बफर स्टॉक बाकी
नाफेड के प्रबंध निदेशक संजीव कुमार चड्ढा ने बताया, सरकार के पास प्याज का महज 25 हजार टन का सुरक्षित भंडार (बफर स्टॉक) बचा हुआ है. यह स्टॉक नवंबर के पहले सप्ताह तक समाप्त हो जायेगा. देश में प्याज की खुदरा कीमतें 75 रुपये किलो के पार जा चुकी हैं. ऐसे में इसकी उपलब्धता सुनिश्चित करने तथा कीमतों को नियंत्रित करने के लिये नाफेड सुरक्षित भंडार से प्याज बाजार में उतार रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज