प्याज़ के बढ़े दाम के पीछे नए कृषि कानून हैं कारण, आगे चावल-दाल भी होंगे महंगे- केरल सरकार

केरल में बढ़े प्याज के दाम (प्रतीकात्मक तस्वीर)
केरल में बढ़े प्याज के दाम (प्रतीकात्मक तस्वीर)

केरल (Kerala) में प्याज की कीमत (Onion Price) 90 से 100 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गई, जबकि कई जगह खुदरा दुकानों पर प्याज 120 रुपये प्रति किलोग्राम तक बिक्री हुई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 24, 2020, 9:15 AM IST
  • Share this:
तिरुवनंतपुरम. केरल (Kerala) सरकार में कृषि मंत्री वीएस सुनील कुमार (VS Sunil Kumar) ने हाल ही में राज्य में प्याज के बढ़े दाम को केंद्र की मोदी सरकार द्वारा बीते दिनों पारित कृषि कानूनों का असर बताया है. बता दें सरकार ने त्योहारी सीजन में प्याज की आसमान छूती कीमतों को काबू में करने के लिए हस्तक्षेप किया. केरल में पिछले सप्ताह प्याज की कीमत 90 से 100 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गई जबकि कई जगह खुदरा दुकानों पर प्याज 120 रुपये प्रति किलोग्राम तक बिका.

इस बाबत कृषि मंत्री वीएस सुनील कुमार ने कहा कि 'यह केंद्र द्वारा लागू किए गए कृषि कानूनों का पहला प्रभाव है. यह केवल प्याज तक सीमित नहीं रहेगा, दाल और चावल जैसी अन्य उपज की कीमतें भी बढ़ेंगी. साथ ही इससे किसानों को एक पैसा भी नहीं मिलेगा.'


100 टन प्याज खरीदने का फैसला
बता दें राज्य में प्याज बढ़ने के दाम के बाद सरकार ने इस महीने नेफेड (राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन महासंघ) से लगभग 100 टन प्याज खरीदने का फैसला किया. कृषि मंत्री ने कहा कि प्याज की पहली खेप शुक्रवार सुबह तिरुवनंतपुरम, एर्नाकुलम और कोझिकोड पहुंच गई. नेफेड से खरीदी गई 27 टन प्याज की पहली खेप महाराष्ट्र के नासिक से शुक्रवार को पहुंची.




इस प्याज को केरल बागवानी उत्पाद विकास निगम (हॉर्टकॉर्प) के जरिए उपभोक्ताओं तक पहुंचाया जाएगा। अनुमान जताया जा रहा है कि हॉर्टकॉर्प अपने आउटलेट के जरिए 45 रुपये से 50 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से प्याज बेचेगा. (भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज