महज 37% स्वास्थ्य और फ्रंट लाइन कर्मियों को अब तक लगी हैं वैक्सीन की दो डोज़ : रिपोर्ट

लोग शुरू में वैक्सीन लेने से झिझक रहे थे

लोग शुरू में वैक्सीन लेने से झिझक रहे थे

Covid-19 Vaccine: शनिवार रात आठ बजे तक देश में कोविड-19 टीके की 12,25,02,790 खुराक दी गईं. इनमें शामिल 91,27,451 स्वास्थ्य कर्मी वे हैं जिन्हें पहली खुराक दी गई है जबकि 57,07,322 को दूसरी खुराक दी गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 19, 2021, 2:37 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते संक्रमण के बीच अब तक सिर्फ 37 फीसदी स्वास्थ्य और फ्रंट लाइन कर्मियों को वैक्सीन की दो डोज़ लगी हैं. सरकार ने वैक्सीनेशन अभियान शुरू करने के वक्त 3 करोड़ का लक्ष्य रखा था. इसके अलावा अब तक सिर्फ 91 लाख फ्रंट लाइन कर्मियों को वैक्सीन की पहली डोज़ लगी है. बता दें कि इस साल 16 जनवरी को पीएम मोदी ने टीकाकरण अभियान को हरी झंडी दिखाई थी.

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक सिर्फ 2.36 करोड़ स्वास्थ्य और फ्रंट लाइन कर्मियों ने वैक्सीन लेने के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया था. अगर देखा जाए तो अब तक 47 फीसदी रजिस्टर्ड स्वास्थ्य और फ्रंट लाइन कर्मियों को वैक्सीन की पहली डोज लगी है. यानी ये संख्या अब भी आधी है.

कहा जा रहा है कि इस धीमी रफ्तार के लिए लोगों की दिलचस्पी भी जिम्मेदार है. लोग शुरू में वैक्सीन लेने से झिझक रहे थे. बाद में सरकार और डॉक्टरों की तरफ वैक्सीन से जुड़े तमाम संदेह को दूर किया गया. इसके बावजूद कई लोग वैक्सीन लेने से डर रहे थे.


देश में अब तक कोविड रोधी टीके की 12.25 करोड़ खुराक दी गई हैं जिनमें से 25.65 लाख खुराक शनिवार दी गईं. शनिवार को 60,057 कोविड-19 टीकाकरण केंद्र परिचालन में थे और यह आंकड़ा औसतन 45 हजार टीकाकरण केंद्रों के मुकाबले 15 हजार अधिक है. शनिवार रात आठ बजे तक देश में कोविड-19 टीके की 12,25,02,790 खुराक दी गईं. इनमें शामिल 91,27,451 स्वास्थ्य कर्मी वे हैं जिन्हें पहली खुराक दी गई है जबकि 57,07,322 को दूसरी खुराक दी गई है. मंत्रालय ने बताया कि 60 साल से अधिक उम्र के 4,55,60,187 लोगों को पहली और 38,77,667 को दूसरी खुराक दी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज