बुलेट ट्रेन पर भूमि अधिग्रहण का ब्रेक, अभी तक हुआ है केवल इतना काम

News18Hindi
Updated: June 22, 2019, 9:14 PM IST
बुलेट ट्रेन पर भूमि अधिग्रहण का ब्रेक, अभी तक हुआ है केवल इतना काम
बुलेट ट्रेन के लिए जरूरी भूमि अधिग्रहण का अभी तक केवल 39% ही अधिग्रहित किया गया है. (सांकेतिक तस्वीर)

अब तक जरूरी 1387 हेक्टेयर भूमि में से सिर्फ 39 प्रतिशत भूमि का ही अधिग्रहण हो पाया है. परियोजना के लिए महाराष्ट्र और गुजरात में आवश्यक 1387 हेक्टेयर भूमि में से 537 हेक्टेयर भूमि का ही अधिग्रहण हो पाया है.

  • Share this:
भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जापानी प्रधानमंत्री शिजों आबे के साथ साल 2017 में 508 किलोमीटर लंबी अहमदाबाद-मुंबई हाई-स्पीड रेल परियोजना की आधारशिला रखी थी. इस परियोजना की आधारशिला रखे जाने के बाद से ही बुलेट ट्रेन का इंतजार होने लगा है. बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट को 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है, लेकिन परियोजना के लिए जिस रफ्तार से भूमि अधिग्रहण का काम चल रहा है वह इसके समय से पूरा होने पर सवाल खड़े कर रहा है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अब तक जरूरी 1387 हेक्टेयर भूमि में से सिर्फ 39 प्रतिशत भूमि का ही अधिग्रहण हो पाया है. परियोजना के लिए महाराष्ट्र और गुजरात में आवश्यक 1387 हेक्टेयर भूमि में से 537 हेक्टेयर भूमि का ही अधिग्रहण हो पाया है.

गुजरात में 940 हेक्टयेर भूमि में से 471 हेक्टेयर और महाराष्ट्र में 431 में से 66 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण किया गया. जबकि दादरा और नगर हवेली में जरूरी 9 हेक्टेयर भूमि में से कुछ भी अधिग्रहीत नहीं किया गया है.

बता दें कि सरकार ने भूमि अधिग्रहण के अवरोध को समाप्त करने के लिए दिसंबर 2018 तक की समयसीमा तय की थी. हालांकि 1.08 लाख करोड़ रुपये की परियोजना के लिए जमीन अधिग्रहण का आधा काम भी पूरा नहीं हो पाया है.

ये भी पढ़ें: देश की पहली बुलेट ट्रेन के नाम के लिए लोगों से मांगी थी राय, इन सारे नामों के आए सुझाव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 22, 2019, 9:14 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...