Assembly Banner 2021

कांग्रेस का मकसद सिर्फ अवसरवाद की राजनीति करना, असम के तिनखोंग में बोले जेपी नड्डा

असम के तिंगखोंग विधानसभा में एक चुनावी रैली को संबोधित करते जेपी नड्डा. (JPNadda Twitter/22 March 2021)

असम के तिंगखोंग विधानसभा में एक चुनावी रैली को संबोधित करते जेपी नड्डा. (JPNadda Twitter/22 March 2021)

Assam Assembly Elections 2021: असम में तीन चरणों में--27 मार्च, एक अप्रैल और छह अप्रैल--को मतदान होना है, जबकि वोटों की गिनती दो मई को होगी. पहले चरण में 47, दूसरे चरण में 39 और तीसरे चरण में 40 सीटों पर वोट डाले जाएंगे.

  • Share this:

ओतिनखोंग (असम). भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस पर ’’अवसरवाद की राजनीति’’ करने का आरोप लगाते हुए सोमवार को कहा कि यदि विपक्षी दल सत्ता में आया तो असम में ’’अंधेरे’’ दिन शुरू हो जाएंगे. नड्डा ने डिब्रूगढ़ जिले के तिनखोंग में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा असम की जनता की रक्षा व सेवा में सदैव आगे रही है.


उन्होंने कहा, ’’कांग्रेस का एकमात्र लक्ष्य अवसरवाद की राजनीतिक करना है. वह केरल में मुस्लिम लीग के साथ मिलकर माकपा के खिलाफ चुनाव लड़ रही है और पश्चिम बंगाल तथा असम में उससे हाथ मिला लिया है।’’


भाजपा नेता ने कहा कि हाथी की तरह कांग्रेस के दांत भी खाने के कुछ आर तथा दिखाने के कुछ और हैं. उन्होंने कहा, ’’कांग्रेस हमेशा कहती कुछ है, जबकि करती कुछ और है…वह समाज को बांट रही है.’’ नड्डा ने कांग्रेस पर हमले जारी रखते हुए कहा कि विपक्षी दल के सत्ता में आने का अर्थ अंधेरे दिनों की शुरुआत है जबकि भाजपा का मतलब विकास है.




उन्होंने कहा, ’’यदि आप अंधेरा चाहते हैं तो कांग्रेस के साथ चले जाएं, लेकिन यदि आप विकास चाहते हैं तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का हाथ थाम लें.’’ गौरतलब है कि असम में तीन चरणों में--27 मार्च, एक अप्रैल और छह अप्रैल--को मतदान होना है, जबकि वोटों की गिनती दो मई को होगी. पहले चरण में 47, दूसरे चरण में 39 और तीसरे चरण में 40 सीटों पर वोट डाले जाएंगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज