यात्रीगण ध्यान दें! अब सिर्फ सरकारी कर्मचारी और मेडिकल स्टाफ ही कर सकेंगे मुंबई लोकल में सफर

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुंबई में कई तरह की पाबंदियां लगाने का फैसला लिया गया है. (सांकेतिक तस्वीर)

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुंबई में कई तरह की पाबंदियां लगाने का फैसला लिया गया है. (सांकेतिक तस्वीर)

Mumbai Local Trains: मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने बताया कि सरकार के नियम के मुताबिक आज रात 8:00 बजे के बाद से लोकल ट्रेनों में सिर्फ अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को ही यात्रा करने की अनुमति होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 22, 2021, 6:35 PM IST
  • Share this:
मुंबई. मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र में लगातार बढ़ते करोना मामले को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार आज रात से कई नई पाबंदियां लागू कर रही है. इन पाबंदियों में मुंबई की लाइफ लाइन लोकल ट्रेन भी शामिल है. सरकार द्वारा लगाई गई नई बंदिशों को देखते हुए मध्य रेलवे ने नया आदेश जारी किया है. इस आदेश के तहत आज रात 8:00 बजे के बाद से सिर्फ अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े लोग ही लोकल ट्रेनों में यात्रा कर पाएंगे. इन अत्यावश्यक सेवा में सिर्फ सरकारी कार्यालयों और मेडिकल से जुड़े लोगों को ही यात्रा करने की अनुमति होगी.

मध्य रेलवे द्वारा जारी किए गए आदेश के मुताबिक, अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को टिकट के लिए अपना आई कार्ड दिखाना होगा. टिकट सिर्फ टिकट काउंटरों से ही खरीदे जा सकते हैं. जबकि एटीवीएम और ऑनलाइन यूटीएस ऐप को अगले आदेश तक के लिए रेलवे ने बंद कर दिया है.

पूरे महाराष्ट्र में लॉकडाउन जैसी कड़ी पाबंदियां

बता दें कि महाराष्ट्र में बढ़ते करोना मामला को देखते हुए राज्य सरकार आज रात से लॉकडाउन जैसी कड़ी पाबंदियां लगाने जा रही है. इन पाबंदियों में लोकल ट्रेनों में सिर्फ अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को ही यात्रा करने देने के लिए कहा गया है.
ये भी पढ़ेंः- कर्फ्यू में गर्लफ्रेंड से मिलने के लिए शख्स ने लगाई मुंबई पुलिस से गुहार, मिला दिलचस्प जवाब

स्टेशनों पर भीड़ न हो इसका पूरा ख्याल

मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने बताया कि सरकार के नियम के मुताबिक आज रात 8:00 बजे के बाद से लोकल ट्रेनों में सिर्फ अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को ही यात्रा करने की अनुमति होगी. बाकी लोग यात्रा नहीं कर पाए, इसके लिए रेलवे की तरफ से तमाम कदम उठाए जा रहे हैं. इसके तहत हर स्टेशन पर एक एंट्री और एक एग्जिट द्वार होगा जिसके जरिए सिर्फ जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को ही आने जाने की अनुमति होगी. स्टेशनों पर भीड़ न हो इसका पूरा ख्याल रेलवे रख रही है.





मौजूदा समय में मध्य रेलवे और पश्चिम रेलवे में करीब 95 फ़ीसदी लोकल ट्रेनें चल रही हैं. यह ट्रेनें कुछ पाबंदियों के साथ आम लोगों को यात्रा करने की अनुमति मिलने के बाद चलाई गई थी जानकारी के मुताबिक अगर यात्री कम होते हैं तो रेलवे लोकल ट्रेनों की संख्या को कम कर सकती है क्योंकि गर्मियों का सीजन होने की वजह से काफी संख्या में लोग अपने गांव की तरफ रुख कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज