Home /News /nation /

opinion khadi has been established as brand in 17 countries by pm narendra modi vocal for local dlpg

Opinion: पीएम नरेंद्र मोदी के प्रयास से खादी ग्रामोद्योग ने हासिल की यह उपलब्धि

पीएम मोदी के वोकल फॉर लोकल के चलते आज खादी ब्रांड बन चुका है. (फाइल फोटो)

पीएम मोदी के वोकल फॉर लोकल के चलते आज खादी ब्रांड बन चुका है. (फाइल फोटो)

OPINION: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लोकल फ़ॉर वोकल अभियान के कारण आज देश के भीतर और बाहर के 17 से अधिक देशों में खादी ब्रांड के तौर पर लोकप्रिय हो चुका है.

प्रधानमंत्री बनने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने स्वदेशी सामान के इस्तेमाल पर काफी ध्यान दिया. इसके लिए उन्होंने लोकल फॉर वोकल की परिकल्पना और नारा भी दिया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इसी विजन और अपील का असर है कि 2021-22 में खादी का टर्नओवर एक लाख करोड़ के आंकड़े को पार कर गया. गौरतलब है कि खादी एंड विलेज इंडस्ट्रीज कमीशन (KVIC) का टर्नओवर वित्तीय वर्ष 2021-22 में 1 लाख 15 हज़ार 415 करोड़ का रहा जबकि वित्तीय वर्ष 2020 21 में यह टर्नओवर 95741 करोड़ों रुपए का था.

इस तरह का रहा ग्रोथ रेट

सालाना आधार पर खादी एंड विलेज इंडस्ट्रीज कमीशन (KVIC) के टर्नओवर में बढ़ोतरी का आकलन करें तो इसमें 20.54 फीसदी का उछाल आया है. वित्त वर्ष 2014-15 के मुकाबले ग्रोथ 172 फीसदी है. 172 फीसदी का ग्रोथ प्रोडक्शन के आधार पर है. वहीं, सेल्स के आधार पर 2014-15 के मुकाबले 248 फीसदी का उछाल आया है. अप्रैल से जून 2021 के बीच देश में लॉकडाउन था. इसके बावजूद खादी का टर्नओवर नई ऊंचाइयों को छूने वाला रहा. नई दिल्ली के कनॉट प्लेस में अपने प्रमुख स्टोर पर खादी की एक दिन की बिक्री भी 30 अक्टूबर 2021 को 1.29 करोड़ रुपए के उच्च स्तर पर पहुंच गई.

इस रणनीति के तहत किया जा रहा है काम

केंद्रीय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रालय के अनुसार पिछले कुछ वर्षों में खादी का मुख्य ध्यान कारीगरों और बेरोजगार युवाओं के लिए स्थाई रोजगार सृजित करना रहा है. बड़ी संख्या में युवाओं ने PMEGP के तहत स्वरोजगार और विनिर्माण गतिविधियों को अपनाया जिससे ग्रामोद्योग क्षेत्र में उत्पादन में वृद्धि हुई.

बीजेपी के युवा नेता जयराम विप्लव का मानना है कि खादी ग्राम उद्योग की इस उपलब्धि को एक घटना के तौर पर नहीं बल्कि एक सतत प्रक्रिया के रूप में देखा जाना चाहिए. जयराम विप्लव कहते हैं कि इसके लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद से ही प्रयास शुरू कर दिया था और स्वदेशी लोकल सामानों के ब्रांड एंबेसडर बन गए. इसके तहत उन्होंने विभिन्न मौकों पर खादी के प्रयोग को बढ़ावा देने की वकालत की. पीएम नरेंद्र मोदी ने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में भी इसकी चर्चा कई बार की.

जयराम विप्लव कहते है कि निरन्तरता में किया गया कोई भी प्रयास अंततः बड़े व्यापक परिणाम देता है.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खादी को बढ़ावा देने के साथ-साथ ग्रामीण अर्थव्यवस्था और ग्रामीण लोगों को रोजगार और आर्थिक समृद्धि भी पहुंचाना चाहते हैं.

(डिस्‍क्‍लेमर: ये लेखक के निजी विचार हैं. )

Tags: Khadi, PM Modi, Pm narendra modi

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर